कपिल मिश्रा के आरोप पर CM केजरीवाल ने पहली बार कहा- अगर आरोपों में रत्ती भर भी सच होता तो आज मैं जेल में होता

0

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अपनी ही सरकार के बर्खास्त मंत्री कपिल मिश्रा के आरोपों पर पहली बार सफाई पेश की और कहा कि “अगर मुझपर लगाए जा रहे आरोपों में रत्ती भर भी सच होता तो आज मैं जेल में होता।” साथ ही उन्होंने कहा कि, कपिल उन पर ऐसे आरोप लगा रहे है जिस पर विरोधी भी यकीन नहीं कर रहे।

अरविंद
photo- आज तक

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, रविवार (21 मई) को आम आदमी पार्टी के दिल्ली प्रदेश पदाधिकारी सम्मेलन में बोलते हुए अरविंद केजरीवाल ने कहा कि कहा जा रहा है कि मैं चुप क्यों हूं? बोल क्यों नहीं रहा? ऐसे बेकार आरोपों के ख़िलाफ़ क्या बोलूं, लोग विश्वास ही नहीं कर रहे विरोधी ही विश्वास नहीं कर रहे। कपिल मिश्रा का नाम लिए बगैर केजरीवाल ने कहा कि जब अपने ही धोखा देते हैं तो बहुत दर्द होता है।

साथ ही सम्मेलन को संबोधित करते हुए सीएम केजरीवाल ने कहा कि, ‘हम पर सबसे ज्यादा हमले इसलिए हो रहे है कि हम बहुत बड़ी ताकत हैं। पिछले दिनों में हमारे आंदोलन के ऊपर बड़ा हमला किया गया है, यह खुशी की बात है, यह बताता है कि उनको हमसे सबसे ज्यादा खतरा है।’

वैसे आम आदमी पार्टी ने अपने दिल्ली संगठन को दोबारा खड़ा करने की कोशिश के तहत प्रदेश के सभी पदाधिकरियों की ये बैठक बुलाई थी जिसमें आम आदमी पार्टी के सभी आला नेता और दिल्ली सरकार के मंत्री और विधायक मौजूद थे। लेकिन पार्टी के वरिष्ठ नेता कुमार विश्वास इस बैठक में नज़र नहीं आए।

इस बैठक में एमसीडी चुनावों में मिली हार की वजहों पर चर्चा हुई साथ ही पार्टी के फ्युचर प्लानिंग को लेकर ब्लूप्रिंट तैयार किया गया। साथ ही इस बैठक में अरविंद केजरीवाल ने दो घोषणा की।

उन्होंने कहा, “महीने के पहले रविवार को शाम 7 बजे हर विधानसभा में लोग घर से खाना लाकर साथ बैठेंगे, मैं गूगल हैंगआउट से 8 बजे बात करूंगा और आम आदमी पार्टी के विधायक, मंत्री और मुख्यमंत्री रोज़ सुबह 10 बजे जनता से बिना अप्‍वाइंटमेंट के ज़रूर मिलेंगे।”

गौरतलब है कि, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल कपिल मिश्रा के आरोपों पर काफी दिनों से चुप थे और पहली बार इस मामले पर अपनी सफाई दी है।

आपको बता दें कपिल मिश्रा ने अरविंद केजरीवाल पर करप्शन के आरोप लगाए है। कपिल के मुताबिक दिल्ली सरकार में मंत्री सतेंद्र जैन ने सीएमअरविंद केजरीवाल को उनके सामने दो करोड़ रुपये घूस के तौर पर दिए थे। कपिल मिश्रा इन आरोपों के लेकर अनशन भी कर चुके है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here