बलात्कारी गुरमीत राम रहीम सिंह को पद्म पुरस्कार देने के लिए गृह मंत्रालय को मिले थे 18768 सिफारिशी आवेदन

0

बलात्कारी गुरमीत राम रहीम सिंह को दोषी ठहराए जाने के बाद रोज उनके नए-नए करनामों के खुलासे हो रहें है इतना ही नहीं उनके कई राज ऐसे सामने आ रहें है जो बेहद की चौकाने वाले है। गुरमीत राम रहीम को पद्म पुरस्कार देने के लिये 2017 में 4200 से अधिक लोगों ने उसके नाम की सिफारिश की, जबकि स्वयंभू बाबा ने इस सम्मान के लिए खुद 5 बार अपने नाम का प्रस्ताव दिया।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, पद्म पुरस्कार 2017 के लिये सिफारिशों या नामित किये जाने वाले लोगों की सूची के अनुसार, केंद्रीय गृह मंत्रालय को 18768 आवेदन मिले। सर्वाधिक 4208 सिफारिशें विवादास्पद डेरा सच्चा सौदा प्रमुख को तीन पद्म पुरस्कारों में से कोई भी प्रदान करने के लिए मिलीं। ख़बरों के मुताबिक, इनमें से दो सिफारिशें हरियाणा के हिसार से ‘सेंटगॉर्ज विलियम सोनेट’ और ‘इंडिया सेंटगॉर्ज’ से भी मिलीं।

सभी सिफारिशें ‘संत डॉ गुरमीत राम रहीम सिंह जी इंसां ‘ के नाम की थी। बाबा ने खुद 5 बार अपने नाम की सिफारिश की थी। जहां तीन बार उसका पता सिरसा का था, वहीं दो अन्य आवेदनों में एक बार हरियाणा के हिसार का और एक बार राजस्थान के गंगानगर का पता था जहां उसका जन्म हुआ था।

बता दें कि, सोमवार(28 अगस्त) को केंद्रीय जांच ब्यूरो(सीबीआई) की एक विशेष अदालत ने अपने आश्रम की दो साध्वियों से दुष्कर्म के मामले में दोषी करार दिए गए डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को 20 साल की सश्रम कैद की सजा सुनाई है।

जेल के साथ ही विशेष सीबीआई जज जगदीप लोहान ने राम रहीम पर दोनों मामलों में 15-15 लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया है। जुर्माना न अदा करने पर राम रहीम को दो-दो साल की और सश्रम कैद भुगतनी होगी, इनमें से 14-14 लाख रुपये की राशि दोनों पीड़िताओं को दी जाएगी।

वहीं दूसरी और हरियाणा पुलिस ने गुरमीत राम रहीम की मुंह बोली बेटी हनीप्रीत इंसा के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी किया है। हनीप्रीत के खिलाफ पंचकुला हिंसा को उकसाने और राम रहीम को कोर्ट से भगाने की साजिश रचने का आरोप है। बलात्कार के मामले में गुरमीत राम रहीम को सजा सुनाए जाने के बाद से ही हनीप्रीत अंडरग्राउंड होने की खबर है।

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here