फरीदाबाद: गोरक्षकों ने बीफ के शक में ऑटो ड्राइवर सहित 5 लोगों को पीटा और लगवाए ‘भारत माता की जय’ के नारे

1

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील के बाद भी कथित गोरक्षकों के भेष में हिंदुत्व आतंकियों का उत्पात देश में थमने का नाम नहीं ले रहा है, जिसका ताजा मामला देश की राजधानी दिल्ली से फरीदाबाद में देखने को मिली है। जहां एक ऑटो में गौमांस होने के शक पर कथित गौरक्षकों ने एक ऑटो ड्राइवर और उसके साथी को जमकर पीटा।

photo- ANI

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, पीड़ित ने बताया कि वह अपने साथी की मीट की दूकान के लिए अपने ऑटो में मीट रखकर ले जा रहा था। इस दौरान उसका एक और साथी ऑटो में बैठा था, लेकिन जैसे ही वह फरीदाबाद के बाजड़ी गांव के नजदीक पहुंचे तभी पीछे से आई एक कार में सवार कुछ युवकों ने उसके ऑटो को रुकवा लिया और रोक कर किसी लड़के के बारे में पूछा और जब उसने कहा की वो उन्हें नहीं जानता है तो आरोपियों ने उससे मारपीट शुरू कर दी।

ख़बरों के मुताबिक, आरोपियों ने ऑटो चालक को भारत माता और हनुमान की जय बोलने के लिए कहा और न बोलने पर उसे पीट पीट कर लहूलुहान कर दिया। आरोप है इसी दौरान ऑटो चालक के अन्य तीन साथियों को भी पीटा गया। इसमें एक युवक को गंभीर चोट लगी है, जिसके बाद घायल युवक को बीके अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस ने पांचों पीड़ितों के खिलाफ ही गौरक्षा अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया है। साथ ही पुलिस ने मीट बरामद कर उसे जांच के लिए भेज दिया है। साथ ही पुलिस पीड़ितों की शिकायत का इंतजार कर रही है। वहीं दूसरी ओर पीड़ित ने उसके ऑटो में गौ मांस नहीं होने की बात कही है। पीड़ित का कहना है कि अगर गाय का मीट निकला तो मुझे फांसी दे देना और अगर नहीं तो मुझे इन्साफ चाहिए।

बता दें कि, हाल ही में पीएम मोदी ने जुनैद हत्याकांड और देश भर में भीड़ के द्वारा धर्म के नाम पर हो रही हिंसा को लेकर गुरुवार(29 जून) को चुप्पी तोड़ते हुए पीएम मोदी ने कहा था कि मैं देश के वर्तमान माहौल की ओर अपनी पीड़ा व्यक्त करना चाहता हूं और अपनी नाराजगी भी व्यक्त करता हूं। साथ ही पीएम मोदी ने भी लोगों को चेतावनी दी कि गाय संरक्षण के नाम पर हत्याएं बर्दाश्त नहीं की जाएंगी।

देखिए हिंसा की कुछ बड़ी वारदातें:

  • 22 जून को बल्लभगढ़ में ट्रेन से सफर कर रहे जुनैद नामक युवक की कथित तौर पर बीफ को लेकर हुए विवाद में हत्या कर दी गई। जबकि उसके दो भाइयों को घायल कर दिया।
  • 30 अप्रैल को असम के नागौन जिले के पास गाय चोरी के आरोप में दो मुस्लिमों की हत्या कर दी।
  • 1 अप्रैल को राजस्थान के अलवर में 50 वर्षीय पहलू खान की गोतस्करी के आरोप में स्वयंभू गोरक्षकों ने पीट-पीटकर हत्या कर दी गई।
  • 29 जून को प्रतिबंधित मांस ले जाने के आरोप में झारखंड में एक युवक को बेकाबू भीड़ ने पीट-पीट कर मार डाला।भीड़ ने सुबह साढ़े नौ बजे मनुआ-फुलसराय निवासी अलीमुद्दीन अंसारी को इतना पीटा कि अस्पताल पहुंचने से पहले ही उसकी मौत हो गई।
  • 26 जुलाई 2016 को मंदसौर स्टेशन पर बजरंग दल कार्यकर्ताओं ने बीफ ले जाने के शक में दो मुस्लिम महिलाओं की बर्बर तरीके से पिटाई की थी।

 

1 COMMENT

  1. Isi page par khabar hai ki Akhlaq ke hatyaron ko NTPC men naukri di gayee.
    Mr Modi ki narazgi ek natak bhar hai, wardaten lagatar jari hain kyun ki Mr Modi ki inhen pusht panahi hasil hai warna kya wajah hai ki Akhlaq ke qatilon ( mulzimon ) ko Central Government ke I dare NTPC men naukri kaise mili, isse aise logon ka hausla hi badhega.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here