राजस्थान: गोरक्षकों के भेष में हिंदुत्व आतंकियों की गुंडागर्दी जारी, गाय ले जा रहे ट्रकों में तोड़फोड़, ड्राइवरों को बुरी तरह पीटा

0

कथित गोरक्षकों के भेष में हिंदुत्व आतंकियों का उत्पात देश में थमने का नाम नहीं ले रहा है। अभी पहलू खान हत्याकांड का मामला ठंडा ही नहीं हुआ कि अब इस का ताजा मामला राजस्थान के बाड़मेर में गोरक्षकों का कहर देखने को मिला है।जहां कथित गोरक्षकों की भीड़ ने राजस्थान से तमिलनाडु गाय ले जा रहे पांच ट्रकों को नेशनल हाइवे पर रोककर ट्रक ड्राइवरों को लहूलुहान कर दिया और जमकर हंगामा किया और ड्राइवरों को लहूलुहान कर दिया।

गोरक्षकों
phot ABP NEWS

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, ट्रक ड्राइवरों ने भीड़ को समझाने की कोशिश की लेकिन हिंसा पर उतारू भीड़ ने उनकी एक न सुनी। रिपोर्टों के मुताबिक ना सिर्फ गोरक्षकों ने गाय से भरे ट्रक के ड्राइवरों से मारपीट की बल्कि कई गाड़ियों के शीशे भी तोड़ दिए और एक ट्रक को आग भी लगा दी। हालां​कि समय रहते पुलिस ने आग बुझा दी थी, जिससे गौवंश को नुकसान नहीं हुआ है। गाय से भरे ये ट्रक तमिलनाडु जा रहे थे और इसपर तमिलनाडु सरकार की ऑन गवर्मेंट ड्यूटी वाल स्टीकर भी लगा हुआ था।

लेकिन उसके बाद भी कथित गोरक्षकों ने एनएच 15 पर जाम भी लगा दिया, गोरक्षक गाय की तश्करी करने का आरोप लगाते हुए हंगामा कर रहे थे। ढाई घंटे तक चले उपद्रव से हाइवे पर जाम लग गया, इससे वाहन चालकों को भारी परेशानी हुई। जिसके बाद बेकाबू भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस को वहां लाठीचार्ज भी करनी पड़ी।

ख़बरों के अनुसार, पुलिस ने इस घटना में राजमार्ग जाम करने, राजकार्य में बाधा पहुँचाने और आगजनी कारित करने के मामले में 15 लोगों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज किया गया हैं। वहीं सीपीआई की तमिलनाडु इकाई ने राजस्थान में गौरक्षकों द्वारा राज्य सरकार के अधिकारियों पर हमले की कड़ी निंदा की है और उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है।

एनडीटीवी की ख़बर के मुताबिक, पांच ट्रकों में तमिलनाडु सरकार द्वारा 50 गायों और 30 बछडों को गौ नस्ल वृद्धि कार्यक्रम के तहत ले जाया जा रहा था। यह गाय और बछड़े तमिलनाडु सरकार ने जैसलमेर से 25 लाख रुपये में खरीदे हैं।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस थाना सदर के सीआई जयराम चौधरी शराब के नशे में वहां पहुंचे और इसकी भनक जब लोगो को लगी तो उन्होंने एसपी से इसकी शिकायत कर डाली। एसपी ने लापरवाही बरतने पर सीआई जयराम, सदर थाने के द्वितीय अधिकारी सब इंस्पेक्टर ध्रुवप्रसाद समेत सात पुलिसकर्मियों को लाइन हाजिर कर दिया हैं।

अलवर में गोरक्षकों द्वारा पहलू खान की हत्या

बता दें कि इससे पहले भी राजस्थान के अलवर के बहरोड़ थाना क्षेत्र में कथित गोरक्षकों की भीड़ द्वारा गाय लेकर जा रहे मुस्लिम समुदाय के 15 लोगों पर किए गए हमले में बुरी तरह जख्मी 55 वर्षीय पहलू खान नाम की मौत हो गई थी।मेवात जिले के नूंह तहसील के जयसिंहपुर गांव के रहने वाले पहलू खान एक अप्रैल को अपने दो बेटों और पांच अन्य लोगों के साथ जब गाय खरीदकर लौट रहे थे, तब राजस्थान के बहरोड़ में कथित गोरक्षों ने गो-तस्करी का आरोप लगाकर उन लोगों की जमकर पिटाई की थी।

भीड़ के हमले में अन्य लोगों के साथ बुरी तरह से पिटाई के शिकार हुए 55 साल के पहलू खान ने 3 अप्रैल को अस्पताल में दम तोड़ दिया। जबकि, बाद में मिले दस्तावेजों से साफ होता है कि उनके पास गाय ले जाने के दस्तावेज भी थे। इन रसीदों में इन लोगों द्वारा जयपुर नगर निगम और दूसरे विभागों को चुकाए गए पैसों की रसीद है, जिसके तहत वे कानूनी रूप से गायों को ले जाने का हक रखते थे।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here