शत्रुघ्न सिन्हा के ट्वीट पर बिहार BJP में मचा घमासान, शत्रु बोले- सुशील मोदी पर हो कार्रवाई

0

भ्रष्ट्राचार के आरोपों से घिरे दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रिमो लालू प्रसाद यादव के पक्ष में उतरे बीजेपी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा के बाद भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील मोदी ने ट्विटर पर मोर्चा खोलते हुए ‘गद्दारों’ को बाहर करने की मांग कर डाली। उनके इस ट्वीट के बाद शत्रुघ्न सिन्हा ने ट्वीट कर उनपर ही बिहार के हार का ठीकरा फोड़ा है और उनपर पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से कार्रवाई की बात कही है।

दैनिक जागरण की ख़बर के अनुसार, इस ट्विटर वार के बीच जदयू नेता अजय आलोक ने चुटकी लेते हुए कहा कि सुशील मोदी से हमदर्दी हो रही है। उनपर तो लोगों ने बिहार में हार का ठीकरा भी फोड़ दिया है। उनके इस ट्वीट का जवाब देते हुए सुशील मोदी ने उन्हें कहा कि जो शख्स मशहूर हो वो कोई जरूरी नहीं कि उसपर एेतबार किया जाए, जितनी जल्दी हो घर से गद्दारों को बाहर किया जाए।

उन्होंने अगले ट्वीट में लिखा कि जिस लालू की बेनामी संपत्ति के बचाव में नीतीश नहीं उतरे उसके बचाव में भाजपा के शत्रु कूद पड़े।

जिसका जवाब देते हुए शत्रुघ्न सिन्हा ने ट्वीट किया कि सकारात्मक बातों को आलोचना के रूप में लेकर इस तरह का बयान उस व्यक्ति की निराशा और हताशा झलकती है। मेरे खिलाफ इस तरह की आलोचना करना यह दर्शाता है कि वह कितना दुखी है।

 

शत्रुघ्न सिन्हा ने अपने अगले ट्वीट में लिखा कि इस तरह के लोगों की वजह से ही बीजेपी को बिहार में हार मिली थी। हार के बाद किसी और पर अपनी भड़ास निकालना और इस तरह की आलोचना करके अपनी छवि को उजागर करना क्या ठीक है?

शत्रुघ्न सिन्हा ने ट्वीट करते हुए पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से सुशील मोदी पर कार्रवाई करने की बात भी कही है। उन्होंने कहा कि भगवान एेसे लोगों को सद्बुद्धि दे जो ये नहीं जानते कि वो क्या कर रहे हैं?

दरअसल, शत्रुघ्न सिन्हा ने सोमवार (22 मई) राजनेताओं को हिदायत देते हुए ट्वीट में लिखा है कि लालू यादव, अरविंद केजरीवाल या सुशील मोदी आप लोगों ने नकारात्मक राजनीति को चरम पर पहुंचा दिया है, अब बस कीजिए।शत्रुघ्न सिन्हा ने इस बार लिखा है कि हमारे राजनेताओं पर कीचड़ उछालना और नकारात्मक राजनीति बहुत हुई फिर चाहे वो अरविंद केजरीवाल हो, लालू यादव हो या फिर सुशील मोदी हों।

उन्होंने आगे लिखा है कि यह सही वक्त है जब आरोपों को साबित किया जाए या फिर बंद कर दें। इसके साथ ही सिन्हा ने आगे ट्वीट किया है कि मैं अपने स्तर पर कई राजनेताओं जिनमें केजरीवाल भी हैं उन्हें उनकी विश्वसनियता, संघर्ष और समाज के लिए प्रतिबद्धता के लिए सम्मान से देखता हूं।

गौरतलब है कि केजरीवाल पर उनके ही पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा ने 2 करोड़ रुपये घूस लेने का आरोप लगया था। पिछले काफी समय से सुशील मोदी दस्तावेज पेश कर लालू प्रसाद यादव के खिलाफ घोटालों का आरोप लगा रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here