बलात्कार पीड़िता ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से किया इच्छा मृत्यु का अनुरोध

0

योगी आदित्यनाथ ने सत्ता में आने के बाद कानून व्यवस्था और महिलाओं की सुरक्षा के लिए एंटी रोमियो स्कवॉड का गठन किया था। लेकिन उसके बाद भी राज्य की महिलाएं सुरक्षित नहीं है। उत्तर प्रदेश के बलिया में कथित रूप से बलात्कार की पीड़ित एक किशोरी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र भेजकर इच्छा मृत्यु की इजाजत देने का अनुरोध किया है।

प्रतिकात्मक फोटो- Khabar India TV News

भाषा की ख़बर के मुताबिक, सहतवार थाना क्षेत्र के एक गांव की रहने वाली 16 वर्षीय लड़की ने गत 30 अगस्त को मुख्यमंत्री को भेजे गये पत्र में लिखा है कि पिछली 10 अप्रैल की दोपहर उसकी सहेली ने झांसा देकर उसे अपने घर बुलाया। इसके बाद सहेली की उपस्थिति में ही उसके घर के एक कमरे में दो लोगों ने उसके साथ कथित तौर पर बलात्कार किया।

ख़बरों के मुताबिक, लड़की ने पत्र में लिखा है कि उसने इस मामले में अपनी सहेली समेत तीन लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कराया था। घटना के बाद वह गर्भवती भी हो गई है। इस मुकदमे में पुलिस ने केवल एक आरोपी को गिरफ्तार किया है, अन्य दो आरोपी गिरफ्तार नहीं किए गये हैं।

पीड़िता ने पत्र में आरोप लगाया है कि आरोपी उसे तथा उसके परिजन को जान से मारने की धमकी दे रहे हैं, जिससे वह काफी मानसिक पीड़ा से गुजर रही है और अब उसकी जीने की इच्छा खत्म हो गयी है। धमकियों से आजिज आकर ही उसने मुख्यमंत्री से इच्छा मृत्यु की इजाजत देने का अनुरोध किया है।

लड़की ने पत्र की प्रतिलिपि राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग तथा महिला आयोग को भी भेजी है। अपर पुलिस अधीक्षक विजय पाल सिंह ने बताया कि इस मामले में दो फरार आरोपियों के खिलाफ कुर्की की कार्रवाई की जा रही है।

यूपी के बलिया में मंगलवार(8 अगस्त) को स्कूल जा रही ग्यारहवीं की छात्रा(रागिनी दुबे) से कथित तौर पर छेड़खानी की और फिर बाइक से धक्का मारकर सड़क पर गिरा दिया, इसके बाद बेरहमी से धारदार हथियार से रागिनी की हत्या कर दी गई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here