यूपी: रागिनी हत्या कांड मामले में तीसरे आरोपी ने किया सरेंडर, BJP नेता के बेटे पर है छात्रा की हत्या का आरोप

0

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के हिदायत के बाद भी यूपी के बदमाशों पर इसका कोई असर नही पड़ रहा है। योगी आदित्यनाथ ने सत्ता में आने के बाद कानून व्यवस्था और महिलाओं की सुरक्षा के लिए एंटी रोमियो स्कवॉड का गठन किया था। लेकिन उसके बाद भी राज्य में महिलाएं सुरक्षित नहीं है।

हत्या
फोटो- gaonconnection.com

यूपी के बलिया में मंगलवार(8 अगस्त) को स्कूल जा रही ग्यारहवीं की छात्रा(रागिनी दुबे) से कथित तौर पर छेड़खानी की और फिर बाइक से धक्का मारकर सड़क पर गिरा दिया, इसके बाद बेरहमी से धारदार हथियार से रागिनी की हत्या कर दी।

आरोपी की पहचान स्थानीय पंचायत प्रमुख और भाजपा नेता कृपाशंकर तिवारी के बेटे प्रिंस तिवारी के रूप में की गई थी।इस मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपी प्रिंस तिवारी और राजू यादव को गिरफ़्तार कर लिया था। ABP न्यूज़ के मुताबिक, अब रागिनी दुबे की हत्या के मामले में तीसरे आरोपी ने सरेंडर कर दिया है।

दिन दहाड़े हुई हत्या से जहां प्रदेश की कानून व्यवस्था पर सवाल उठ रहे हैं तो दूसरी ओर बच्ची के पिता जीतेंद्र कुमार दुबे के बयान ने सबको झकझोर कर रख दिया गया।

सुरक्षा व्यवस्था पर सरकार से सवाल करते हुए कहा कि अगर सरकार सुरक्षा नहीं दे सकती है तो बच्चियों की भ्रूण हत्या की इजाजत दे जिससे समाज में किसी पिता को जलालत न झेलनी पड़े। उन्होंने सभी आरोपियों के फांसी की भी मांग की। वहीं दूसरी और छात्रा की बहन आरोपियों के लिए फांसी की मांग कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here