प्रद्युमन की हत्या के बाद एक बार फिर विवादों में रयान इंटरनेशनल स्कूल, 10 साल के छात्र को बेरहमी से पिटने का आरोप

0

देश की राजधानी दिल्ली से सटे गुरुग्राम के भोंडसी स्थित रयान इंटरनेशनल स्कूल में दूसरी कक्षा के 7 वर्षीय छात्र प्रद्युम्न ठाकुर की हत्या का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ कि, अब लुधियाना में भी रेयान इंटरनेशन स्कूल में एक 10 वर्षीय छात्र की बेहरहमी से पिटाई का मामला सामने आया है।

समाचार एंजेसी ANI के मुताबिक, लुधियाना के जमालपुर इलाके में स्थित रेयान इंटरनेशनल स्कूल में पढ़ाई कर रहे चौथी कक्षा के 10 वर्षीय मनसुख सिंह छात्र ने स्कूल के दो टीचरों पर बेहरहमी से पिटाई का आरोप लगाया है। इस घटना के बाद छात्र के परिजन जहां स्कूल प्रशासन पर गंभीर आरोप लगा रहे हैं, वहीं स्कूल की प्रिंसिपल ने बच्चे के साथ हुई किसी भी प्रकार की मारपीट से साफ इंकार किया। हालांकि पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है।

पीड़ित छात्र का आरोप है कि, बुधवार के दिन उसका उसी की ही कक्षा में पढ़ने वाले एक अन्य विद्यार्थी के साथ झगड़ा हो गया था, जिसके बाद टीचरों ने शिकायत मिलने पर जहां उसके परिजनों को स्कूल में बुलाकर इसके बारे में जानकारी दी। इसके बाद अगले ही दिन स्कूल में मैडम रमन और हरप्रीत सिंह नामक पीटी के दो टीचरों ने उसकी डंडे से जमकर पिटाई कर दी।

छात्र जब घर पहुंचा तो उसने इसके बारे में अपने परिजनों को बताया, परिजनों ने जब बच्चे के शरीर पर चोट के निशान देखे तो पुलिस में शिकायत कर दी। पुलिस ने अध्यापकों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। पीड़ित बच्चे की पीठ पर पड़े रहे निशान को देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है कि, छात्र को किस तरह से पीटा गया है।

पीड़ित छात्र मनसुख सिंह के पिता जसविंदर सिंह का कहना है कि, बुधवार को उनके बेटे का स्कूल में किसी बच्चे के साथ झगड़ा हो गया था। इसके बाद मनसुख की क्लास टीचर ने उन्हें स्कूल बुलाया था, इस पर मनसुख की मां हरजीत कौर स्कूल टीचर और प्रिंसिपल से मिलकर आई थीं।

वहीं दूसरी और इस पूरे मामले में स्कूल की प्रिंसिपल ने इस शिकायत को सिरे से नकारते हुए कहा कि ये आरोप सरासर गलत है। बच्चे की पिटाई नहीं गई है लेकिन दूसरे बच्चे के साथ झगड़े की वजह से अनुशासनात्मक आधार पर एक माह के लिए सस्पेंड किया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here