रयान स्कूल हत्याकांड: रिपब्लिक टीवी की कर्मचारी ने प्रद्युम्न के पिता से किया दुर्व्यवहार, लोगों ने की आलोचना

0

गुरुग्राम के भोंडसी स्थित रयान इंटरनेशनल स्कूल में दूसरी कक्षा के सात वर्षीय छात्र प्रद्युम्न ठाकुर की बेरहमी से गला काटकर हत्या का मामले सामने आने के बाद हर कोई स्तब्ध है। इस हत्या ने ये सोचने पर मजबूर कर दिया है कि आखिर हम अपने बच्चों को कहां सुरक्षित मानें। देश में बच्चों की सुरक्षा को लेकर जोरदार बहस छिड़ी है। बेटे प्रद्युम्न की मौत के बाद पूरा परिवार सदमे में है। उनके माता-पिता के आंसू थम नहीं रहे हैं।मासूम प्रद्युमन की हत्या की खबर आने के बाद से मीडिया में लगातार कवरेज हो रहा है। हालांकि, इस दौरान कई टीवी चैनल इस हत्याकांड मामले में ‘एक्सक्लूसिव’ के चक्कर में निम्न स्तर पर उतर आए हैं। ताजा मामला अंग्रेजी न्यूज चैनल ‘रिपब्लिक टीवी’ को लेकर है, जिसके कर्मचारी प्रद्युम्न के पीड़ित पिता के जख्मों पर नमक छिड़कने का काम किया है।

दरअसल, सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है। इस वीडियो में प्रद्युम्न के पीड़ित पिता वरुण चंद्र ठाकुर, रिपब्लिक टीवी, टाइम्स नाऊ सहित तमाम मीडिया संस्थानों के कर्मचारी दिखाई दे रहे हैं। विशाल ठाकुर एक चैनल को इंटरव्यू दे रहे हैं इसी बीच एक अन्य चैनल की महिला कर्मचारी आकर उनके कॉलर में लगे लेपल माइक को खींचने की कोशिश कर रही है।

रिपोर्ट में दावा किया जा रहा है कि वरुण ठाकुर, टाइम्स नाऊ को इंटरव्यू दे रहे थे, जो पहले से फिक्स था। लेकिन रिपब्लिक टीवी को यह बात हजम नहीं हुई कि उसके प्रतिद्वंदी चैनल को कैसे उससे पहले एक्सक्लूसिव इंटरव्यू मिल गया। कथित तौर पर रिपब्लिक टीवी ने अपने कर्मचारी के ऊपर दबाव बनाया, जिसके बाद चैनल की महिला कर्मचारी (काला कपड़ा पहनी लड़की) इंटरव्यू को रोकने की कोशिश कर रही है।

वीडियो में आप साफ तौर पर देख सकते हैं कि काला कपड़ा पहनी रिपब्लिक टीवी की कर्मचारी प्रद्युम्न के पिता के साथ कैसे दुर्व्यवहार कर रही है। ठाकुर के पास जाकर रिपब्लिक की कर्मचारी ने लाइव इंटरव्यू को रोकने की कोशिश कर रही है। इतना ही नहीं उसने लाइव इंटरव्यू के दौरान प्रद्युम्न के पिता के कॉलर से लेपल माइक भी निकालने की कोशिश कर रही है, जिसकी जितनी भी निंदा की जाए वह कम है।

रिपब्लिक की कर्मचारी की इस हरकत को देख वहां मौजूद टाइम्स नाऊ की महिला कर्मचारी (सफेद कपड़े में लड़की) रिपब्लिक की कर्मचारी को खींचकर अलग करती है। टाइम्स नाऊ के कर्मचारी ने ‘जनता का रिपोर्टर’ से बातचीत में बताया कि यह बदसूरत दृश्य उसके चैनल पर लाइव चला गया, जो बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है। उसने बताया कि जबकि श्री ठाकुर खुद सबसे पहले उसके चैनल को इंटरव्यू देने के लिए तैयार हुए थे।

सोशल मीडिया पर लोगों ने की निंदा

रिपब्लिक टीवी के कर्मचारी द्वारा प्रद्युम्न के पीड़ित पिता के साथ किए इस दुर्व्यवहार को लेकर सोशल मीडिया पर लोगों ने अर्नब गोस्वामी और उनके चैनल के खिलाफ जमकर अपनी भड़ास निकाली है। लोगों का कहना है कि मौत का तमाशा बनाना बंद कीजिए।

यूजर्स ने गोस्वामी पर हमला बोलते हुए कहा कि एक बच्चे की से उसका परिवार सदमे में है और आपके कर्मचारी एक्सक्लूसिव इंटरव्यू के चक्कर में एक पीड़ित पिता के साथ ऐसे दुर्व्यवहार कर रही है। इससे ज्यादा घिनौना और डरावना कुछ नहीं हो सकता है।

बता दें कि अर्नब गोस्वामी ने बड़े ही धमाके के साथ 6 मई 2017 को अपने नए इंग्लिश चैनल ‘रिपब्लिक टीवी’ को लॉन्च किया था। हालांकि, लॉन्च होने के बाद से ही अर्नब गोस्वामी और उनका चैनल विवादों में है। रिपोर्ट के मुताबिक, रिपब्लिक चैनल में NDA के वाइस चेयरमैन और राज्यसभा सांसद राजीव चंद्रशेखर और बीजेपी समर्थक मोहनदास पै का पैसा लगा हुआ है।

https://twitter.com/Shaikh046/status/907489741293084674?ref_src=twsrc%5Etfw&ref_url=http%3A%2F%2Fwww.jantakareporter.com%2Findia%2Frepublic-tv-condemned-staffs-disgusting-behaviour%2F148642%2F

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here