राफेल डील: कांग्रेस नेता वीरप्पा मोइली ने IAF चीफ पर लगाया झूठ बोलने का आरोप, बीजेपी ने किया पलटवार

0
Follow us on Google News

वरिष्ठ कांग्रेस नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री वीरप्पा मोइली ने राफेल डील को लेकर भारतीय वायुसेना के प्रमुख बीएस धनोआ पर झूठ बोलने और सच्चाई को दबाने का आरोप लगाया है। वायुसेना प्रमुख के इस बयान पर वीरप्पा मोइली की इस टिप्पणी से विवाद खड़ा हो गया है। मोइली ने यह आरोप तब लगाए हैं जब एक दिन पहले धनोआ ने राफेल डील पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को सही बताया था।

वीरप्पा मोइली

न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक कांग्रेस नेता वीरप्पा मोइली ने कहा, ‘सरकारी रिकॉर्ड में रक्षा मंत्री और आईएएफ चीफ चाहते थे कि हिंदुस्तान एरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) को शामिल किया जाए। आईएएफ चीफ उस वक्त दसॉ के साथ एचएएल भी गए थे और एचएएल को सक्षम पाया और घोषणा की कि उनमें क्षमता है। मुझे लगता है कि आईएएफ चीफ धनोवा ठीक नहीं हैं, वह झूठ बोल रहे हैं, वह सच्चाई को दबा रहे हैं।’

मोइली के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर ने संवाददाताओं से कहा, मोइली जैसे वरिष्ठ नेता का बयान दुर्भाग्यपूर्ण है। इससे पता चलता है कि उसकी (कांग्रेस की) निराशा चरम पर पहुंच गई है और सरकार जिस रफ्तार से भ्रष्टाचार की जांच कर रही है, उससे वह पूरी तरह बिखर गई है।

वहीं, बीजेपी सांसद सुब्रमण्यन स्वामी ने कहा कि कांग्रेस नेता का बयान न सिर्फ आईएएफ चीफ का निजी अपमान है, बल्कि देश का भी अपमान है। उन्होंने कहा कि मोइली को पब्लिक में माफी मांगनी चाहिए।

एयर चीफ मार्शल बी एस धनोआ ने बुधवार को कहा था कि उच्चतम न्यायालय के फैसले पर मैं कुछ नहीं कहूंगा लेकिन उसने बहुत अच्छा फैसला दिया है। इस विमान की बहुत ज्यादा जरुरत थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here