कोरोना लॉकडाउन: जामिया मिल्लिया इस्लामिया ने छात्रों से छात्रावास खाली कर घर जाने को कहा

0

जामिया मिल्लिया इस्लामिया ने छात्रावासों में रह रहे छात्रों को शुक्रवार को निर्देश दिया कि वे अपने कमरे खाली कर घर लौट जाएं। गृह मंत्रालय द्वारा फंसे हुए छात्रों को उनके राज्यों तक पहुंचाने के लिए ट्रेनों के संचालन की मंजूरी दिए जाने के बाद विश्वविद्यालय की तरफ से यह निर्देश आया है।

जामिया मिल्लिया इस्लामिया

बता दें कि, कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से विश्वविद्यालय बंद है और नियमित छात्रों के लिए यह अगस्त में खुलेगा जबकि नया शैक्षणिक सत्र सितंबर से शुरू होगा। विश्वविद्यालाय ने कहा कि जुलाई 2020 के लिए परीक्षा कार्यक्रम की अधिसूचना आने वाले समय में जारी की जाएगी।

समाचार एजेंसी पीटीआई की रिपोर्ट के मुताबिक विश्वविद्यालय ने कहा, “छात्रावासों (हॉस्टल) में फंसे छात्र जो पूर्व में अपने घर नहीं जा सकते थे और यहीं ठहरे हुए थे, उन्हें निर्देश दिया जाता है कि राज्य सरकारों द्वारा परिवहन और यात्रा के लिए किए गए इंतजामों के मुताबिक वे छात्रावास खाली कर दें।”

विश्वविद्यालय की निकटता वाले क्षेत्रों को हॉटस्पॉट और सील घोषित किया गया है और विश्वविद्यालय ने कहा कि भविष्य में रसद और जनशक्ति आवश्यकताओं को बनाए रखना मुश्किल हो जाएगा। विश्वविद्यालय ने कहा कि रखरखाव और आकस्मिक संगरोध सुविधाओं के लिए छात्रावासों की आवश्यकता है।

बता दें कि, केंद्र सरकार ने लॉकडाउन को 3 मई के बाद दो सप्ताह के लिए और बढ़ा दिया है। पहली बार 24 मार्च को केंद्र सरकार ने लॉकडाउन की घोषणा की थी। जिसके बाद फिर 14 अप्रैल से लॉकडाउन बढ़ाने का फैसला हुआ था। अब तीसरे चरण में चार मई से दो हफ्ते के लिए लॉकडाउन बढ़ाने का फैसला हुआ है।

Previous articleलॉकडाउन बढ़ाने पर भड़के बॉलीवुड डायरेक्टर अनुराग कश्यप, मोदी सरकार पर साधा निशाना
Next articleदिल्ली अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष जफरूल इस्लाम ने अपने विवादित पोस्ट के लिए मांगी माफी