विराट के समर्थन में आए फिल्मकार अनुभव सिन्हा, बोले- कोहली के जवाब से उनके बारे में राय न बनाएं

0
Follow us on Google News

एक क्रिकेट प्रशंसक को देश छोड़ने की सलाह देने वाले अपने विवादास्पद बयान पर आलोचना झेल रहे भारतीय कप्तान विराट कोहली ने गुरुवार (8 नवंबर) को रक्षात्मक रवैया अपनाया। विवादित बयान पर ट्रोल होने के बाद विराट ने कहा कि उन्हें इससे कोई गुरेज नहीं कि सभी को पसंद की आजादी है। प्रशंसकों को उनके बयान को हल्के में लेना चाहिए।

हालांकि, विराट कोहली अपने बयान की वजह से सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर हैं। सोशल मीडिया पर विराट को काफी ट्रोल किया जा रहा है। विराट के इस विवादित बयान पर उनकी जमकर अलोचना हो रहीं है। वहीं, कुछ लोग ऐसे भी है जो अब विराट के समर्थन में उतर आए हैं। क्रिकेटर मोहम्मद कैफ के बाद अब फिल्मकार अनुभव सिन्हा विराट के समर्थन में उतर आए।

अनुभव सिन्हा ने लोगों से कहा कि इस कमेंट के कारण कोहली की छवि का आंकलन न करें। उनके बारे में कोई फैसला न करें साथ ही उन्होंने कहा कि कोहली युवा हैं उत्तेजित हो गए हैं। लेकिन प्रशंसक के सवाल का जवाब इससे अच्छे तरीके से दिया जा सकता था।

फिल्म ‘मुल्क’ के निर्देशक ने शुक्रवार को अपने एक ट्वीट में कहा, “दोस्तों, कोई बात नहीं। कोहली युवा हैं। उत्तेजित हो जाते हैं। हां, सही है कि उस प्रशंसक के सवाल का जवाब इससे अच्छे तरीके से दिया जा सकता था, लेकिन इस टिप्पणी को लेकर उनके बारे में राय न बनाएं। वैसे भी, आजकल किसी भी मामले में लोगों को दूसरे देश भेजने का प्रचलन चला हुआ है।”

बता दें कि इससे पहले विराट कोहली के समर्थन में ट्वीट करते हुए पूर्व क्रिकेटर मोहम्मद कैफ ने लिखा था कि कुछ लोग जानबूझकर उन्हें ट्रोल कर रहे हैं और उनकी टिप्पणी को घुमा-फिराकर अपने अजेंडा के तहत पेश कर रहे हैं। विराट ने एक निश्चित संदर्भ में यह टिप्पणी की थी, जबकि लोग उन्हें जानबूझकर निशाना बना रहे हैं।

मोहम्मद कैफ ने ट्वीट करते हुए लिखा था, ‘कोहली को जानबूझकर निशाना बनाने से यह साफ हो गया है कि लोग कैसे अपने अजेंडे के हिसाब से दूसरों की टिप्पणियों को घुमा देते हैं। वह (विराट) बीते दिनों में दुनिया भर में प्रशंसनीय खिलाड़ी रहे हैं और उनकी टिप्पणी साफतौर पर एक निश्चित संदर्भ में थी। लेकिन कुछ शरारती तत्वों का काम सिर्फ दूसरों को टारगेट करना ही होता है।’

दरअसल, बता दें कि विराट कोहली ने सोमवार को अपने 30वें जन्मदिन पर ‘विराट कोहली ऑफिशियल एप’ को लांच किया था। इस दौरान एक प्रशंसक ने उनसे कहा था कि उसे कोहली की टीम के खेल के बजाए इंग्लैंड और आस्ट्रेलिया के खिलाड़ियों का खेल देखने में अधिक आनंद आता है। इसकी प्रतिक्रिया में कोहली ने उस प्रशंसक को एक वीडियो के जरिए देश छोड़कर जाने की बात कही थी, जिसने विवाद का रूप ले लिया।

अपनी इस टिप्पणी के कारण आलोचना के घेरे में आए कोहली ने मुद्दे की गरमी को कम करने की कोशिश की और कहा कि उनकी बात को हल्के-फुल्के अंदाज में लिया जाना चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि वह हर किसी की पसंद की आजादी के पक्षधर हैं।

अपने ट्वीट के जरिए कोहली ने कहा, “मुझे लगता है कि ट्रोलिंग करना मेरे लिए नहीं हैं। मैं ट्रोल होने के साथ रहूंगा। मैंने तो यह कहा था टिप्पणी में ‘इन भारतीयों’ का उल्लेख कैसे किया गया था, बस। मैं पसंद की आजादी के चुनाव का पक्षधर हूं। इस चीज को अधिक गंभीरता से न लें और त्यौहार के सीजन का आनंद लें। सभी को प्यार।”

Chilling! What happened in Hashimpura in 1987 when UP Police carried out massacre of 42 Muslims?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here