सुप्रीम कोर्ट द्वारा पटाखों की बिक्री पर रोक लगाने के फैसले के खिलाफ दिल्ली की सड़को पर लगे पोस्टर

0

सुप्रीम कोर्ट ने इस बार दिवाली के मौके पर दिल्ली सहित पूरे एनसीआर में पटाखों की बिक्री पर रोक लगा दी है। कोर्ट के इस फैसले का कुछ लोगों ने स्वागत किया है तो कई इससे निराश भी हुए हैं। सुप्रीम कोर्ट के पटाखों की बिक्री पर रोक के फैसले के खिलाफ दिल्ली की सड़कों पर कई जग़ह पोस्टर लगाए गए है, इन पोस्टरों में पटाखो की बिक्री पर बैन का विरोध किया गया है। फिलहाल, यह पोस्टर किसने लगवाए है इसके बारें में पता नहीं चल पाया है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, दिल्ली में रविवार रात को पटेल चौक मेट्रो स्टेशन के पास, आईटीओ फुटओवर ब्रिड और अशोक रोड पर पटाखो पर बैन को लेकर पोस्टर लगाए गए। जिसे सोमवार सुबह लोगों ने देखा। पोस्टर दिल्ली में ऐसी जगहों पर लगाए गए हैं, जहां हर वक्त पुलिस की चौकसी रहती है। आईटीओ पर तो दिल्ली पुलिस का हेडक्वॉर्टर भी है।

ये पोस्टर किसने लगवाए है, यह पता नहीं चल पाया है। पोस्टरों में विरोध करने वाले के नाम की जगह ‘दिल्ली की जनता’ लिखा हुआ है। लगाए गए पोस्टरों में से एक पर लिखा गया है, ‘आईआईटी कानपुर की रिपोर्ट कहती है कि पटाखों से कहीं अधिक प्रदूषण अन्य स्रोतों से होता है। आप केवल पटाखे ही देख पाए।’

वहीं दूसरे पोस्टर में लिखा गया है, कोर्ट में करोड़ों मुकदमें हैं लेकिन जज साहब को जलीकट्टू, दीपावली और हर त्योहार पर सुनवाई के लिए समय मिल जाता है।

एक और पोस्टर में कह गया है कि ‘याकूब मेमन के लिए सुप्रीम कोर्ट रात को दो बजे सुनवाई करता है, छोटे बच्चों की फुलझड़ी जलाने पर कब सुनवाई होगी।’

बता दें कि, सुप्रीम कोर्ट ने 9 अक्टूबर को पटाखों की बिक्री पर एक नवंबर तक रोक लगा दी गई थी। सुप्रीम कोर्ट द्वारा पटाखों की बिक्री पर रोक के दिए गए फैसले में बदलाव की मांग को लेकर व्यवसायियों का एक समूह ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था।

लेकिन उसके बाद भी सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार(13 अक्टूबर) को पटाखा विक्रेताओं को राहत देने से इनकार कर दिया था। शीर्ष अदालत ने व्यापारियों को याचिका पर सुनवाई करते हुए कहा कि था दिल्ली-एनसीआर में पटाखों की बिक्री पर रोक बरकरार रहेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here