मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने GST को बताया ‘ग्रेट सेल्फिश टैक्स’, नोटबंदी को लेकर भी सरकार पर साधा निशाना

0

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केंद्र की मोदी सरकार को घेरते हुए अपने ट्विटर हैंडल से बड़ा हमला किया है। उन्होंने मोदी सरकार की आलोचना करते हुए वस्तु एवं सेवा कर जीएसटी को लोगों का उत्पीड़न करने और अर्थव्यवस्था को बर्बाद करने के लिए ग्रेट सेल्फिश टैक्स महा स्वार्थी कर बताया। इससे पहले कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने जीएसटी को गब्बर सिंह टैक्स बताया था, इसको लेकर तब भी सियासत गर्मा गई थी।

ममता बनर्जी

ममता ने कहा कि विमुद्रीकरण एक आपदा थी और उन्होंने सोशल मीडिया के उपयोक्ताओं से आठ नवंबर को नोटबंदी के खिलाफ विरोध स्वरूप अपनी प्रोफाइल पिक्चर को बदलकर काला करने की अपील की।

उन्होंने ट्विटर पर कहा, लोगों को उत्पीड़ित करने वाला ग्रेट सेल्फिश टैक्स जीएसटी। नौकरियां छीनने वाला। कारोबार को नुकसान पहुंचाने वाला। अर्थव्यवस्था को बर्बाद करने वाला। भारत सरकार जीएसटी से निपटने में पूरी तरह विफल रही।

मुख्यमंत्री ने कहा, नोटबंदी एक आपदा थी। अर्थव्यवस्था को बर्बाद करने वाले इस घोटाले के खिलाफ विरोध स्वरूप आठ नवंबर को काले दिवस पर चलिए ट्विटर पर अपनी डीपी को बदलकर काला करें। तृणमूल कांग्रेस ने इससे पहले घोषणा की थी कि वह नोटबंदी के खिलाफ विरोध स्वरूप पश्चिम बंगाल में आठ नवंबर को काला दिवस मनाएगी।

बता दें कि, इससे पहले ममता बनर्जी नोटबंदी तथा वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) के मुद्दे को कुरेदते हुए कहा था कि नोटबंदी ‘‘सबसे बड़ी आपदा’’ रही तो नयी कर व्यवस्था ‘‘एक बड़े करतब’’ की तरह है।

उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल में लिखा था कि, ‘‘जैसा कि मैंने पहले भी कहा है कि नोटबंदी सबसे बड़ी आपदा है। इसने देश की अर्थव्यवस्था को पूरी तरह से बर्बाद कर दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here