“क्या पीएम मोदी-अमित शाह से भी बड़े हो गए हैं आप?”: लाइव शो में किसानों को धमकाने वाले BJP प्रवक्ता को एंकर ने जमकर लगाई लताड़, देखें वीडियो

0

मोदी सरकार के नए कृषि कानूनों के विरोध में प्रदर्शन कर रहे किसानों के आंदोलन को हर तरफ से समर्थन मिल रहा है।इस बीच, एक समाचार चैनल का वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है, जिसमें भाजपा प्रवक्ता कथित तौर पर किसानों को धमकाते हुए नज़र आ रहे हैं। इस दौरान न्यूज़ एंकर ने भाजपा प्रवक्ता को जमकर फटकार लगाई। बता दें कि, कृषि कानूनों के विरोध में पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश के अंदरूनी इलाकों से आए हजारों किसान देश की राजधानी दिल्ली की सीमाओं पर 26 नवंबर से डटे हुए हैं। विरोध कर रहे किसानों की मांग है कि, सरकार इन कृषि कानूनों को वापस लें।

लाइव शो

दरअसल, यह पूरा मामला हिंदी समाचार चैनल ‘जन तंत्र’ टीवी का है। इस शो में समाजवादी पार्टी (सपा) और कांग्रेस के नेताओं के अलावा भाजपा प्रवक्ता वैभव अग्रवाल भी मौजूद थे। डिबेट के दौरान किसान नेता चौधरी दिगंबर सिंह के साथ भाजपा प्रवक्ता की तीखी बहस हुई। बहस के दौरान वैभव अग्रवाल किसानों को धमकाते हुए कहने लगे कि आप लोगों को मानना है तो मानिए क्योंकि कृषि कानून तो रहेगा। भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि इस कानून से जिसको दिक्कत है वह खेती छोड़ कर चला जाए क्योंकि उनके बिना भी खेती तो होगी ही।

भाजपा प्रवक्ता की बात सुन शो की एंकरिंग कर रहे पत्रकार सतेंद्र भाटी बुरी तरह भड़क गए। उन्होंने भाजपा प्रवक्ता को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि, आप ये कैसी बातें कर रहे हैं। लाइव शो में आप किसानों को धमका रहे हैं कि जिसको भी नए कृषि कानूनों को मानना है वो खेती करे नहीं तो पाकिस्तान चला जाए। ऐसा कैसे कर सकते हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी किसानों की बात करते हैं। भाजपा प्रवक्ता को डांटते हुए एंकर ने ये भी पूछ लिया कि आप अपनी पार्टी के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह से भी बड़े हो गए हैं क्या।

गौरतलब है कि, केन्द्र के तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ पंजाब और हरियाणा के अंदरूनी इलाकों से आए हजारों किसान दिल्ली की सीमाओं पर 26 नवंबर से विरोध प्रदर्शन पर बैठे हैं। वे हरियाणा की सिंघु, टिकरी सीमा और उत्तर प्रदेश की गाजीपुर और चिल्ला सीमाओं पर डेरा डाले हुए हैं। किसानों के इस आंदोलन को कई संगठनों और राजनितिक दलों का समर्थन मिल चुका है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here