AAP के आरोपों पर बीजेपी उम्मीदवार गौतम गंभीर ने किया पलटवार, बोले- साबित करो तो वापस ले लूंगा अपनी उम्मीदवारी

0

दिल्ली में होने वाले लोकसभा चुनाव से ठिक पहले एक पैम्फलेट को लेकर विवाद खड़ा हो गया। जिसमें कथित तौर पर आम आदमी पार्टी के संयोजक व दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और पूर्वी दिल्ली से पार्टी प्रत्याशी आतिशी मार्लेना को लेकर अपशब्दों की भरमार है। आम आदमी पार्टी ने इसके लिए बीजेपी उम्मीदवार गौतम गंभीर पर आरोप लगाए है।

गौतम गंभीर
फाइल फोटो: @GautamGambhir

इस पैम्फलेट को लेकर आम आदमी पार्टी (AAP) ने गुरुवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस भी किया। प्रेस कॉन्फ्रेंस में आतिशी मार्लेना ने बीजेपी उम्मीदवार गौतम गंभीर पर क्षेत्र में अपमानजनक पैम्फलेट बंटवाने का आरोप लगाया। पत्रकारों के सामने पर्चा पढ़ते समय आतिशी रो पड़ीं। उन्होंने कहा कि पूर्व क्रिकेटर गंभीर के राजनीति में आने पर उन्होंने उनका स्वागत किया था लेकिन अब बीजेपी बेहद निचले स्तर पर पहुंच गई है। प्रेस कॉन्फ्रेंस में आतिशी मार्लेना के साथ दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया भी मौजूद थे।

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान आतिशी मार्लेना ने कहा कि, “मेरा गंभीर जी से बस एक यही सवाल है के अगर वो मेरे जैसी एक सशक्त महिला को हराने के लिए इतना गिर सकते तो सांसद बनने के बाद वो अपने क्षेत्र की महिलाओं को कैसे सुरक्षित करेंगे।” वहीं, उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि पंफलेट को पढ़ते हुए हमें शर्म आ रही है। जब गौतम गंभीर देश के लिए खेलते हुए चौके और छक्के मारते थे, तब हम तालियां बजाते थे। मगर हमने कभी सपने में नहीं सोचा था कि यह आदमी चुनाव जीतने के लिए इस स्तर तक जा सकता है।

उधर, गौतम गंभीर ने अपने ऊपर लगे आरोपों का एक के बाद एक तीन ट्वीट कर जवाब दिया और इस मुद्दे पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधा। गौतम गंभीर ने ट्वीट करके कहा कि इस पर्चे से उनका कोई लेना देना नहीं है। उनके मुताबित ये केजरीवाल का काम है। साथ ही गौतम गंभीर ने कहा कि अगर साबित होता है कि उन्होंने कुछ गलत किया है तो वह अपनी उम्मीदवारी वापस ले लेंगे।

पूर्वी दिल्ली से बीजेपी उम्मीदवार और पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर ने ट्वीट कर कहा, ‘ मैं एक महिला की शराफत और वो भी अपनी सहयोगी का इस्तेमाल करने की कृत्य की वजह से अरविंद केजरीवाल से घृणा करता हूं। क्या यह सब चुनाव जीतने के लिए है? मिस्टर सीएम आप कचरा हैं और आपके दिमाग को साफ करने के लिए आपको अपने ही झाड़ू की जरूरत है।

गौतम गंभीर ने एक अन्य ट्वीट में लिखा, ‘अरविंद केजरीवाल और आतिशी के लिए मेरी दूसरी चुनौती। मैं घोषित करता हूं कि अगर ये साबित हुआ कि वो काम (आपत्तिजनक पर्चा बांटने का काम) मैंने किया है तो मैं अभी अपनी उम्मीदवारी तत्काल वापस ले लूंगा। यदि नहीं, तो क्या आप राजनीति छोड़ देंगे? गंभीर ने एक अन्य ट्वीट में लिखा, अरविंद केजरीवाल जैसे लोगों के मुख्यमंत्री होने को लेकर मैं शर्मिंदा हूं।

गौरतलब है कि, पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर काफी समय से बीजेपी सरकार की नीतियों के समर्थक रहे हैं। कुछ दिनों पहले ही उन्होंने केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली की मौजूदगी में बीजेपी का दामन थामा था। वह पार्टी के टिकट पर पूर्वी दिल्ली लोकसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ रहें है। बता दें कि गौतम गंभीर कांग्रेस के अरविंदर सिंह लवली और आम आदमी पार्टी के आतिशी के खिलाफ चुनावी मैदान में हैं।

बता दें कि, दिल्ली की सभी सात लोकसभा सीटों पर मतदान 12 मई का छठे चरण में होगा। मतगणना 23 मई को होगी। 2014 के आम चुनाव में इन सभी सीटों पर बीजेपी को जीत मिली थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here