शर्मनाक: दिल्ली के बाद अब बेंगलुरु के स्कूल में गार्ड ने 4 साल की बच्ची से किया रेप, FIR दर्ज

0

राजधानी दिल्ली के शाहदरा स्थित गांधी नगर इलाके में एक निजी स्कूल के परिसर में एक चपरासी द्वारा पांच वर्षीय एक मासूस छात्रा के साथ कथित रूप से रेप और गुरुग्राम के स्कूल में 7 साल के बच्चे की बेरहमी से हत्या किये जाने का मामला अभी ठंडा ही नहीं हुआ कि अब बेंगलुरु में एक प्राइवेट स्कूल में एलकेजी में पढ़ने वाली चार साल की बच्ची के साथ रेप की वारदात सामने आई है।

रेप
प्रतिकात्मक फोटो

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, यह घटना मंगलवार की बताई जा रही है। स्कूल के सिक्युरिटी गार्ड ने स्कूल परिसर में ही बच्ची से दुष्कर्म किया। बच्ची दोपहर को जब अपने घर लौटी तो उसने अपने प्राइवेट पार्ट्स में दर्द की शिकायत की और इसके बाद वह उल्टियां करने लगी। जिसके बाद परिजन बच्ची को इलाज के लिए एक क्लीनिक पर ले गए, जहां से बाद में उसे एमएसआर रमैया अस्पताल ले जाया गया।

वहां डॉक्टरों ने उसके साथ रेप किए जाने की बात की पुष्टि की, जिसे सुनकर परिजनों के होश उड़ गए। इसके तुरंत बाद बच्ची के माता-पिता ने थाने में शिकायत दर्ज कराई, पुलिस ने शिकायत के आधार पर स्कूल के सभी पांच सिक्युरिटी गार्ड को हिरासत में ले लिया।

पुलिस के मुताबिक इनमें से एक गार्ड ने अपराध कबूल कर लिया है, पुलिस अब बच्ची के पूरी तरह से स्वस्थ होने का इंतजार कर रही है। जिसके बाद आरोपी की शिनाख्त कराई जाएगी।

डीसीपी(नॉर्थ) के मुताबिक स्कूल में सीसीटीवी कैमरे लगे हैं और सभी सुरक्षा मानकों का पालन किया गया है, लेकिन इसके बावजूद यह दुर्भाग्यपूर्ण घटना हुई। उन्होंने कहा कि स्कूल के मैनेजमेंट के खिलाफ भी विभिन्न धाराओं में केस दर्ज किया जाएगा।

वहीं दूसरी और मध्य प्रदेश के एक सरकारी स्कूल में 8वीं क्लास की छात्रा से छेड़छाड़ के आरोप में मंगलवार(12 सितंबर) को स्कूल के प्रिंसिपल को गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तारी से पहले छात्रा के परिजनों ने प्रिंसिपल की जमकर पिटाई की।

बता दें कि दिल्ली के स्कूल में चपरासी द्वारा छात्रा से रेप और गुरुग्राम के रयान इंटरनेशनल स्कूल में सात वर्षीय छात्र से गला काटकर हत्या का मामले सामने आने के बाद हर कोई स्तब्ध है। इस हत्या ने ये सोचने पर मजबूर कर दिया है कि आखिर हम अपने बच्चों को कहां सुरक्षित मानें, देश में बच्चों की सुरक्षा को लेकर जोरदार बहस छिड़ी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here