अब मध्य प्रदेश के स्कूल में छात्रा से छेड़छाड़ के आरोप में प्रिंसिपल गिरफ्तार, परिजनों ने की पिटाई

0

राजधानी दिल्ली के शाहदरा स्थित गांधी नगर इलाके में एक निजी स्कूल के परिसर में एक चपरासी द्वारा पांच वर्षीय एक मासूस छात्रा के साथ कथित रूप से रेप किये जाने का मामला अभी ठंडा ही नहीं हुआ कि अब मध्य प्रदेश के एक सरकारी स्कूल में प्रिंसिपल द्वारा एक छात्रा के साथ कथित रूप से छेड़छाड़ किये जाने का मामला सामने आया है।

प्रतीकात्मक तस्वीर: HT

मध्य प्रदेश से एक हैरान करने वाली खबर आ रही है, जहां छात्रा से छेड़छाड़ के आरोप में एक स्कूल के प्रिंसिपल को गिरफ्तार किया गया है। न्यूज एजेंसी PTI के मुताबिक, मध्य प्रदेश के सीहोर जिले के एक सरकारी स्कूल के प्रिंसिपल को 8वीं क्लास की छात्रा से छेड़छाड़ करने के आरोप में मंगलवार(12 सितंबर) को गिरफ्तार किया गया है।

पुलिस ने बताया कि आरोपी प्रिंसिपल की पहचान अखिलेश मालवीय के तौर पर हुई है। गिरफ्तारी से पहले छात्रा के परिजनों ने प्रिंसिपल की जमकर पिटाई की। पुलिस ने बताया कि घटना के बाद पीड़ित छात्रा के परिजनों ने तिलक मिडल स्कूल के 45 वर्षीय प्रिंसिपल की पिटाई भी की। जिसके बाद पुलिस ने मालवीय को आईपीसी की धारा 354 (उत्पीड़न और महिला की निजता का हनन का आरोप) के तहत गिरफ्तार कर लिया।

अधिकारी ने बताया कि आरोपी प्रिंसिपल के खिलाफ पॉस्को ऐक्ट के तहत कार्रवाई की जाएगी। रिपोर्ट के मुताबिक, कोतवाली पुलिस स्टेशन के इंस्पेक्टर अजय नायर ने कहा कि यह मामला गंभीर था। इसलिए हमने मालवीय को फौरन गिरफ्तार कर लिया। हालांकि, प्रिंसिपल ने दावा किया कि वह बेकसूर हैं और उनके ऊपर लगाए गए सभी आरोप गलत हैं।

प्रिंसिपल ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि छात्रा की किताब में लव लेटर पाए जाने के बाद मैंने उसे डांटा था और उसके परिजनों को जानकारी दी थी। प्रिंसिपल ने कहा कि हालांकि, छात्रा के परिजन उल्टे मेरे ऊपर ही भड़क गए और मारपीट करने लगे। इंस्पेक्टर अजय नायर ने बताया कि पुलिस ने केस दर्ज कर मामले की विस्तृत जांच की जा रही है।

बता दें कि दिल्ली के स्कूल में चपरासी द्वारा छात्रा से रेप और गुरुग्राम के रयान इंटरनेशनल स्कूल में सात वर्षीय छात्र से गला काटकर हत्या का मामले सामने आने के बाद हर कोई स्तब्ध है। इस हत्या ने ये सोचने पर मजबूर कर दिया है कि आखिर हम अपने बच्चों को कहां सुरक्षित मानें। देश में बच्चों की सुरक्षा को लेकर जोरदार बहस छिड़ी है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here