गोरखपुर हादसा: पूर्व प्रिंसिपल के बाद अब डॉक्टर कफील खान गिरफ्तार

0

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में बाबा राघव दास(बीआरडी) मेडिकल कॉलेज में हुई मासूमों की मौत के मामले में अभियुक्त बनाए गए इंसेफलाइटिस वार्ड के प्रभारी डॉक्टर कफील खान को स्‍पेशल टास्‍क फोर्स ने गोरखपुर से गिरफ्तार कर लिया गया है।

(AFP)

गौरतलब है कि,10 और 11 अगस्त को हुई मासूम बच्चों की मौत के मामले में डॉ. राजीव मिश्रा और उनकी पत्नी डॉ. पूर्णिमा शुक्ला की गिरफ्तारी के बाद ये तीसरी गिरफ्तारी है। बता दें गोरखपुर कोर्ट ने शुक्रवार को डॉक्टर कफील खान समेत 7 आरोपियों के खिलाफ गैर जमानती वारंट(एनबीडब्लू) जारी किया था।

मासूम बच्चों की मौत के बाद चिकित्सा शिक्षा महानिदेशक के के गुप्ता ने 23 अगस्त को सात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई थी।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बच्चों की मौत के मामले में मुख्य सचिव राजीव कुमार को जांच का जिम्मा सौंपा था। उन्होंने जांच के बाद अपनी रिपोर्ट मुख्यमंत्री को सौंप दी थी। इसके बाद चिकित्सा शिक्षा की अपर मुख्य सचिव अनीता भटनागर जैन को पद से हटा दिया गया था।

गौरतलब है कि, डॉ. राजीव मिश्रा और उनकी पत्नी डॉ. पूर्णिमा की गिरफ्तारी के बाद उन्‍हें 31 अगस्‍त को अदालत में पेश किया गया, जहां से दोनों को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया।

बता दें कि, इससे पहले डॉक्टर कफील खान की तलाश में सोमवार की देर रात गोरखपुर पुलिस ने उनके आवास पर छापेमारी की थी लेकिन इस दौरान डॉ कफील अपने घर पर नहीं मिले। जिसके बाद पुलिस की टीमों ने डॉ कफील के घर मौजूद कर्मचारियों, नौकरों और कुछ रिश्तेदारों से पूछताछ की थी।

ख़बरों के मुताबिक, डॉक्टर कफील पर कार्रवाई इसलिए की गई थी, क्योंकि वो सरकारी डॉक्टर रहते हुए प्राइवेट प्रैक्टिस कर रहे थे। जबकि वो सरकारी नौकरी ज्वाइन करते वक्त प्राइवेट प्रैक्टिस नहीं करने का हलफनामा दे चुके थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here