राजस्थान: BJP विधायक ने अपनी ही सरकार के खिलाफ दिया धरना, ‘लव जिहाद’ को पनपाने का लगाया आरोप

0

राजस्थान के अलवर जिले के रामगढ से भारतीय जनता पार्टी(बीजेपी) विधायक ज्ञानदेव आहूजा ने अपनी ही पार्टी की सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए मंगलवार(4 जुलाई) को पुलिस प्रशासन की निष्क्रियता के विरोध में रामगढ में धरना दिया।आहूजा ने धरना देने के बाद मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के नाम एक ज्ञापन तहसीलदार को सौंपा। ज्ञापन में आहूजा ने पुलिस प्रशासन पर ‘लव जिहाद’ को पनपाने, अवैध खनन में सहयोग करने समेत अन्य कई आरोप लगाते हुए सम्बधित पुलिस अधिकारियों के खिलाफ कडी कार्वाई की मांग की है।

आहूजा ने अपने सैंकडों कार्यकर्ताओं के साथ धरना देने के बाद पीटीआई से बातचीत करते हुए कहा कि पुलिस प्रशासन की निष्यिकता को लेकर आन्दोलन जारी रहेगा। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की राजस्थान यात्रा के बाद फिर से पुलिस प्रशासन के खिलाफ धरना देने का समय तय करूंगा।

उन्होने दोहराया कि वह पार्टी के विरोध में नहीं है। मैं मतभेद रखता हूं, लेकिन मनभेद नहीं। बीजेपी विधायक ने कहा, मुझे पूर्व मंत्री और बीजेपी विधायक घनश्याम तिवारी के साथ जाने को मजबूर नहीं करे। हालांकि, मैं किसी भी हालत में तिवारी के साथ नहीं जाऊंगा। मैं आगामी विधान सभा चुनाव में फिर से कमल खिलाना चाहता हूं।

गौरतलब है कि बीजेपी के वरिष्ठ विधायक घनश्याम तिवाडी भी मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के आवास को खाली करवाने की मांग को लेकर पिछले दिनों धरना देने का प्रयास किया था, तिवाडी धरना देते उससे पहले ही पुलिस ने उन्हे गिरफ्तार कर बाद में उनके घर ले जाकर छोड़ दिया था।

बता दें कि बीजेपी विधायक ज्ञानदेव आहूजा भी अनदेखी के चलते विधानसभा की समितियों और राज्य सरकार द्वारा गठित सभी कमेटियों से इस्तीफा दे चुके है। हालांकि, उन्होंने कहा कि मैं आगामी विधान सभा चुनाव में फिर से कमल खिलाना चाहता हूं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here