नोएडा: कोरोना लॉकडाउन का दिखा बुरा असर, मानसिक तनाव से परेशान होकर अध्यापिका ने 17वीं मंजिल से कूदकर की आत्महत्या

0

कोरोना वायरस महामारी को फैलने से रोकने के लिए लागू किए गए देशव्‍यापी लॉकडाउन के बीच देश की राजधानी दिल्ली से सटे नोएडा के सेक्टर-78 स्थित एक सोसाइटी में रहने वाली एक टीचर ने शनिवार तड़के अपनी सोसाइटी की 17वीं मंजिल से कूदकर आत्महत्या कर ली। पुलिस के अनुसार महिला लॉकडाउन के चलते मानसिक तनाव में थी।

नोएडा
फाइल फोटो

पुलिस उपायुक्त (जोन प्रथम) संकल्प शर्मा ने बताया कि थाना सेक्टर 49 क्षेत्र के सेक्टर 78 स्थित अंतरिक्ष गोल्फ व्यू द्वितीय सोसाइटी के एफ-ब्लॉक में रहने वाली 35 वर्षीय भगवती बिष्ट ने शनिवार सुबह 4 बजे के करीब अपनी सोसाइटी की 17वीं मंजिल से छलांग लगाकर आत्महत्या कर ली।

अधिकारी ने बताया कि महिला दिल्ली के एक सरकारी स्कूल में पढ़ाती थी। उनके पति का मेडिकल का कारोबार है। डीसीपी ने बताया कि महिला की मौके पर ही मौत हो गई। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। उन्होंने बताया कि पुलिस मामले की जांच कर रही है।

बता दें कि, चीन के वुहान शहर से दुनियाभर में फैला जानलेवा कोरोना वायरस पूरे देश में तबाही मचा रहा है। कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या भारत में भी लगातार बढ़ती जा रही है और अब तक संक्रमण 750 से अधिक लोगों की जान ले चुका है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए 24 मार्च को 14 अप्रैल तक देशभर में लॉकडाउन लगाने की घोषणा की थी लेकिन अब इसकी अवधि को तीन मई तक बढ़ा दिया गया है। (इंपुट: भाषा के साथ)

Previous article101 पूर्व नौकरशाहों ने मुख्यमंत्रियों को लिखी चिट्ठी, कहा- कोरोना के नाम पर मुस्लिमों का हो रहा है उत्पीड़न
Next articleलॉकडाउन: गृह मंत्रालय ने जारी किया आदेश- देश भर में आज से खुल जाएंगी कॉलोनियों के निकट की दुकानें