“तुमसे तो पत्रकारिता की बात भी नहीं की जा सकती, शर्म करो”: लखीमपुर खीरी में जीप से किसानों को रौंदते वायरल वीडियो को लेकर न्यूज 18 इंडिया के एंकर अमिश देवगन पर भड़के वरिष्ठ पत्रकार अभिसार शर्मा, ‘तबलीगी जमात’ का ज्रिक कर दिया करारा जवाब

0

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में रविवार को हुई हिंसा का एक वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है, जिसे कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी, आप नेता संजय सिंह और भाजपा सासंद वरुण गांधी समेत कई नेताओं ने शेयर किया है। वीडियो में दिख रहा है प्रदर्शन कर रहे किसानों को पीछे से दो गाड़ियां आकर कुचल रही है। वीडियो में किसानों को कुचलने वाली पहली गाड़ी थार जीप जबकि दूसरी गाड़ी टोयोटा फॉर्च्युनर थी। वहीं, इस वीडियो को शेयर करते हुए वरिष्ठ पत्रकार अभिसार शर्मा ने न्यूज 18 इंडिया के एंकर अमिश देवगन पर निशाना साधा। जिसपर सोशल मीडिया यूजर्स भी जमकर अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं।

लखीमपुर खीरी

 

दरअसल, सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो को शेयर करते हुए अभिसार शर्मा ने ट्विटर पर अमिश देवगन से कहा, “हिम्मत दिखाओ अमीश। ये वीडियो अपने चैनल पर दिखाओ। सिर्फ एक बार।”

शर्मा के ट्वीट पर पलटवार करते हुए देवगन ने लिखा, “इस में हिम्मत की नहीं पत्रकारिता की धर्म की ज़रूरत है जो तुम्हारे agenda में फ़िट नहीं है। हर वीडियो चल रहा।”

वहीं, देवगन के ट्वीट पर पलटवार करते हुए शर्मा ने लिखा, “खैर तुमसे तो पत्रकारिता की भी बात नहीं की जा सकती। ये बताओ, आज से एक साल पहले तुमने चीख चीख कर कहा था के तब्लीग के पीछे पाकिस्तान का हाथ है। वो प्रमाण तुमने पुलिस को दिए? क्या तुम्हारे चैनल ने कोई follow up किया? सच ये है कब तुम एजेंडा बाज़ हो और सत्ता के। शर्म करो।”

अभिसार शर्मा के इस ट्वीट के बाद सोशल मीडिया यूजर्स ने भी अमिश देवगन पर निशाना साधना शुरु कर दिया। एक यूजर ने लिखा, “अभिसार जी ये अमीश देवगन पत्रकार नहीं दलाल है। जो अदानी पोर्ट पर कुत्ते की तरह सो जाता है और आर्यन खान ड्रग्स खा ले तो नागिन डांस करता है। जबकि 6 लड़के आर्यन के साथ और थे उनका नाम नहीं लिए शायद अमीश देवगन के जीजा और दामाद होंगे।”

एक अन्य यूजर ने लिखा, “भाजपाई दलाल पत्रकार आमिष देवगन, देश की लोकशाही का हत्यारा है। इस पर भी मुक़दमा चले, ऐसे दलाल पत्रकार देश को बर्बाद करने के लिए सबसे आगे है।” बता दें कि, इसी तरह तमाम यूजर्स इस पर अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं।

सोशल मीडिया पर वायरल हुए वीडियो में किसानों को गाड़ी से टकराकर जमीन पर गिरते हुए देखा जा सकता है जबकि अन्य किसान गाड़ी के सामने से हटने का प्रयास करते हुए नजर आ रहा है। सायरन बजाते हुए एक अन्य वाहन किसानों को टक्कर मारने वाली SUV के पीछे आते हुए दिख रहा है। वीडियो में यह स्पष्ट नहीं है कि ड्राइविंग सीट पर बैठा शख्स कौन है।

भाजपा नेता और केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे पर किसानों के उपर गाड़ी चढ़ाने का आरोप है। किसानों का दावा है कि मंत्री के काफिले की एक कार के प्रदर्शनकारियों को रौंदने के बाद हिंसा भड़की। हिंसा में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत हुई है।

Previous articleलखीमपुर खीरी में किसानों को गाड़ी से कुचलने का वीडियो शेयर कर भाजपा सांसद वरुण गांधी ने उत्तर प्रदेश डीजीपी से की दोषियों को गिरफ्तार करने की मांग
Next articleकर्नाटक: दुष्कर्म का विरोध करने पर 23 वर्षीय विवाहिता को जिंदा जलाया, अस्पताल में इलाज के दौरान मौत