पत्रकार अभिसार शर्मा का दावा- ‘प्रधानमंत्री कार्यालय के दबाव में तैयार किया जाता है एग्जिट पोल’, आजतक के एंकर ने कहा- ‘इसलिए आप सड़क पर हैं’

0

2019 का आम चुनाव समाप्त हो गया है। इसी के साथ लगभग सभी चैनलों के एग्जिट पोल भी आ गए हैं। चैनलों के एग्जिट पोल के मुताबिक नरेंद्र मोदी सरकार वापसी कर रही है। बीजेपी गठबंधन को 300 से भी ज्यादा सीटों के मिलने का दावा किया जा रहा है, अब ऐसा होगा या नहीं यह तो कल यानी 23 मई को होने वाले नतीजों से पता चलेगा। इसी बीच एग्जिट पोल को लेकर वरिष्ठ पत्रकार अभिसार शर्मा ने एक सनसनीखेज दावा किया है।

अभिसार शर्मा ने दावा किया है कि एग्जिट पोल्स प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) के दबाव में तैयार किया जाता है। अभिसार ने कहा, “एग्जिट पोल को लेकर किस तरह का मीडिया पर दबाव है मैं आपको तीन फैक्टर बताना चाहूंगा। मैं दावे के साथ कह सकता हूं अगर कोई इसे गलत साबित कर दे…सबसे पहले प्रधानमंत्री कार्यालय की तरह से हर एग्जिट पोल एजेंसी को यह दबाव आया है कि आप कृपया विपक्ष के नंबर को टोन डाउन कीजिए।”

अभिसार ने आगे कहा, “यही नहीं मुझे ये भी पता चला है कि एक चैनल ने जो भारतीय जनता पार्टी को 180 सीटें दे रही थी उसे उसने अचानक बढ़ाकर 200 से 250 तक ले आए। इसके अलावा दो एजेंसी (जिसमें से एक ने भाजपा को 300 से अधिक सीटें दी है) भारतीय जनता पार्टी के लिए ग्राउंड वर्क भी करते हैं और इसके अलावा एक एजेंसी है जिसमें पैसा सट्टा बाजार का लगा हुआ है। ये खेल सट्टा बाजार का है।”

वहीं, एक लाइव चैट के दौरान आजतक के एंकर रोहित सरदाना से जब किसी ने कहा कि अभिसार शर्मा का कहना है कि एग्जिट पोल पीएमओ से मैनेज किया हुआ है। इस पर रोहित ने कहा, “भाई ऐसा है इन लोगों के बारे में क्या कहना है…इनको तो धान और गेंहू में फर्क आता नहीं समझ में…ये लोग क्या बताएंगे आप दूसरों को कि क्या कहां से चल रहा है…कहां से नहीं चल रहा है…इनसे पूछना इतने साल खबरें पढ़ते रहे और हर साल एग्जिट पोल दिखाते थे अलग-अलग राज्यों का…इसका मतलब मैनेज एग्जिट पोल दिखाते थे क्या…? पैसा लेकर दिखाते थे…? इसलिए आज बाहर सड़क पर हैं…”

बता दें कि लोकसभा की 543 में से 542 सीटों के लिए हुए मतदान बाद के 15 सर्वेक्षणों में से 12 में राजग के स्पष्ट बहुमत के साथ पुन: सत्ता में आने का अनुमान व्यक्त किया गया है, जबकि कांग्रेस के नेतृत्व वाले संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) को बहुमत से बहुत पीछे दिखाया गया है। इन सर्वेक्षणों में राजग को 231 से 365 सीटें, जबकि संप्रग को 62 से 164 सीटें मिलने की संभावना जताई गई है। अन्य दलों को 69 से 159 तक सीटें मिलने की अनुमान व्यक्त किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here