उत्तर प्रदेश में अपराधियों के हौसले बुलंद, भद्दी टिप्पणी करने से रोकने पर लखनऊ में महिला कांस्टेबल पर रॉड से हमला; वकील का बेटा है आरोपी

0

उत्तर प्रदेश में अपराध लगातार बढ़ते जा रहें है, जो रुकने का नाम ही नहीं है। राज्य में अपराधियों के हौसले इतने बुलंद है कि वो कहीं भी घटना को अंजाम देकर मौके से फरार हो जाते है, जिसका ताजा मामला एक बार फिर से देखने को मिला है। लखनऊ में वर्दी पहने एक महिला कांस्टेबल के चेहरे पर उस वक्त रॉड से वार किया गया, जब उसने एक युवक को भद्दी टिप्पणी करने से रोका था। यह घटना रविवार शाम की है और अलीगंज मोहल्ले के स्थानीय लोगों ने युवक का पीछा किया और उसे हिरासत में भिजवाया।

लखनऊ

समाचार एजेंसी आईएएनएस की रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस ने कहा कि अलीगंज के प्रभात कुमार पर हत्या की कोशिश पूर्व संध्या पर छेड़खानी और एक लोक सेवक को ड्यूटी से रोकने के लिए स्वेच्छा से गंभीर चोट पहुंचाने का मामला दर्ज किया गया था। महिला कांस्टेबल पिंक पेटरोलिंग में ड्यूटी पर थी, जो लड़कियों/महिलाओं के खिलाफ अपराध की घटनाओं को रोकने के लिए गठित एक विंग है।

घटना के बाद से खून से लथपथ महिला कांस्टेबल को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया। पुलिस ने बताया कि आरोपी एक वकील का बेटा है। महिला आरक्षक उसी मोहल्ले में किराए पर रहती है।

अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त (एडीसीपी), उत्तरी क्षेत्र, प्राची सिंह ने कहा, पुलिस की वर्दी पहने महिला कांस्टेबल इलाके में गश्त कर रही थी, तभी बदमाश ने उसे देखा और उस पर अभद्र टिप्पणी की। इससे नाराज महिला कांस्टेबल ने विरोध किया। इस बात से वह इतना नाराज हो गया कि उसने उस पर लोहे की रॉड से हमला कर दिया। उन्होंने बताया कि आरोपी से थाने में पूछताछ की जा रही है।

Previous articleटोक्‍यो पैरालंपिक में भारत का नया रिकॉर्ड: देवेंद्र झाझरिया और योगेश कथुनिया ने जीते रजत, सुंदर सिंह गुर्जर ने कांस्य पदक जीता
Next article“The family is on Instagram”: Parineeti Chopra left red-faced after Priyanka Chopra shares photo of husband Nick Jonas eating her bum as ‘snack’; fans declare it vulgar