अर्नब गोस्वामी के रिपब्लिक टीवी से लेकर टाइम्स नाउ तक, सभी ‘राष्ट्रवादी’ चैनलों ने महाराष्ट्र में नक्सलियों द्वारा की गई 15 जवानों की हत्या को किया नजरअंदाज!

0

महाराष्ट्र दिवस के अवसर पर बुधवार (1 मई) को गढ़चिरौली जिले में नक्सलियों ने जवानों के गश्ती दल के वाहन को विस्फोट कर उड़ा दिया, जिसमें चालक समेत 16 जवान शहीद हो गए। रिपोर्ट के अनुसार वाहन में 16 (सी-60) कमांडो सवार थे, जिसमें 15 कमांडो और एक वाहन चालक भी शामिल था। लेकिन भारत के तथाकथित ‘राष्ट्रवादी’ टीवी चैनलों जैसे अर्नब गोस्वामी के रिपब्लिक टीवी से लेकर टाइम्स नाउ तक किसी ने अपने प्राइम टाइम टीवी कार्यक्रमों में इस विषय पर कोई बहस नहीं की।

अर्नब गोस्वामी

बुधवार को जवानों पर हमले से पहले सुबह नक्सलियों ने गढ़चिरौली में सड़क निर्माण कंपनी के वाहनों और मशीनों में भी आग लगा दी। नक्सलियों ने इस जिले के कुरखेड़ा में करीब 36 वाहनों को आग लगा दी। घटना कुरखेड़ा तहसील के दादापुरा में हुई। वाहनों में आग लगाने के बाद नक्सली जंगल की तरफ भाग गए। ये पुलिस जवान वाहनों को आग लगाने की घटना के बारे में तथ्य जुटानें के लिए वहां जा रहे थे और इसी दौरान नक्सलियों ने उन्हें निशाना बनाया।

लेकिन रिपब्लिक टीवी और टाइम्स नाउ के प्राइम टाइम डिबेट में जवानों की शहादत को नजरअंदाज कर संयुक्त राष्ट्र द्वारा ‘‘जैश-ए-मोहम्मद’’ सरगना मसूद अजहर को ‘‘वैश्विक आतंकवादी’’ घोषित करने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को क्रेडित हुए चर्चा जरूर हुई। इन चैनलों पर भारत के 15 सबसे अच्छे कमांडो की बेरहमी से हत्या किए जाने की खबर का जरा सा भी उल्लेख नहीं मिला, क्योंकि दोनों चैनल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के तहत भारत द्वारा राजनयिक जीत को उजागर करने पर केंद्रित थे।

टाइम्स नाउ ने अपने प्रमुख कार्यक्रमों को संयुक्त राष्ट्र द्वारा मसूद अजहर को अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी घोषित किए जाने पर के फैसले को समर्पित किया, जो क्रमशः राहुल शिव शंकर और नविका कुमार द्वारा प्रस्तुत किया गया। वहीं, रिपब्लिक टीवी पर अर्नब गोस्वामी भी इस विषय पर पीछे नहीं थे, उन्होंने इस पर डिबेट करने के लिए करीब दर्जन भर पैनलिस्टों को शामिल किया था।

हालांकि, दोनों चैनलों ने कांग्रेस महासचिव और पूर्वी यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा के उस बयान पर हमला करने के लिए कुछ समय जरूर निकाल लिया, जिसमें उन्होंने दावा किया था कि कांग्रेस कई सीटों पर बीजेपी की हार सुनिश्चित करने के लिए उन्होंने वोट काटने वाले प्रत्याशी खड़े किए हैं। प्रियंका ने एक बयान में कहा था कि यूपी में जिन सीटों पर कांग्रेस मजबूत है और हमारे उम्मीदवार कड़ी टक्कर दे रहे हैं, वहां कांग्रेस जीतेगी। जहां हमारे उम्मीदवार थोड़े हल्के हैं वहां हमने ऐसे उम्मीदवार दिए हैं जो बीजेपी का वोट काटें।

बता दें कि संयुक्त राष्ट्र ने ‘‘जैश-ए-मोहम्मद’’ सरगना मसूद अजहर को बुधवार को ‘‘वैश्विक आतंकवादी’’ घोषित कर दिया। भारत के लिए यह एक बड़ी कूटनीतिक जीत मानी जा रही है। दरअसल, भारत ने इस मुद्दे पर पहली बार एक दशक पहले इस वैश्विक संस्था का रूख किया था। संरा (यूएन) सुरक्षा परिषद की प्रतिबंध समिति के तहत पाकिस्तानी आतंकी संगठन के सरगना को ‘‘काली सूची’’ में डालने के एक प्रस्ताव पर चीन द्वारा अपनी रोक हटा लिए जाने के बाद संयुक्त राष्ट्र ने यह घोषणा की।

Previous articleArnab Goswami stoops to another low, addresses his guest as swine after being called BJP’s agent
Next articleगुजरात के पूर्व सीएम शंकर सिंह वाघेला बोले- गोधरा कांड की तरह पुलवामा हमला भी बीजेपी की साजिश