तेल में आग: पेट्रोल-डीजल की आसमान छूती कीमतों के खिलाफ कांग्रेस ने किया 10 सितंबर को ‘भारत बंद’ का ऐलान

0

अमेरिकी डॉलर के मुकाबले भारतीय रुपये में लगातार रिकॉर्ड तोड़ गिरावट जारी है। केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के लिए यही एक बुरी खबर नहीं है बल्कि रुपए की विनिमय दर में गिरावट और अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के भाव में तेज उछाल के बीच देश में पेट्रोल तथा डीजल की कीमतें भी अपने सर्वकालिक उच्च स्तर पर पहुंच गई हैं। इस साल देश के कई बीजेपी शासित राज्यों और अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव से पहले मोदी सरकार कोई कड़ा कदम नहीं उठाती है कि बीजेपी के लिए यह दोनों मुद्दा मुश्किलें खड़ी कर सकती हैं।

इस बीच पेट्रोल-डीजल की आसमान छूती कीमतों के खिलाफ कांग्रेस ने 10 सितंबर को ‘भारत बंद’ का किया ऐलान है।कांग्रेस ने गुरुवार (6 सितंबर) को एक प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा कि मोदी सरकार के जनविरोधी नीतियों के खिलाफ कांग्रेस 10 सितंबर को भारत बंद करेगी। प्रेस कॉन्फेंस में शामिल कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेताओं ने कहा कि हम सब ने मिलकर इस सरकार को जगाने के लिए और देश भर के लोगों के आक्रोश की भावना का सम्मान करते हुए 10 तारीख को भारत बंद का आवाह्न किया है।

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि 11 लाख करोड़ की तेल लूट के खिलाफ व्यापक जनांदोलन करने की आवश्यकता है। कांग्रेस पार्टी की ओर से 10 तारीख को भारत बंद का आवाह्न किया गया है उसमें सभी लोग सहयोग दें।उन्होंने कहा कि ये बंद सुबह 9 बजे से दिन में 3 बजे तक जारी रहेगा, ताकि आम लोगों को किसी तरह की परेशानी का सामना न करना पड़े।

सुरजेवाला ने कहा कि मोदी सरकार ने पिछले साढ़े चार साल में पेट्रोल डीजल पर टैक्स लगाकर करीब 11 लाख करोड़ रुपये कमाया है। मोदी जी आज तक इसका जवाब नहीं दे पाए कि वो 11 लाख करोड़ किसकी जेब में गया। उन्होंने दावा किया कि सूचना का अधिकार (आरटीआई) से एक सनसनीखेज खुलासा हुआ है, जिसके मुताबिक 29 ऐसे देश हैं जहां मोदी सरकार 34 रुपया और 37 रुपया प्रति लीटर के हिसाब से तेल बेच रही है।

सुरजेवाला ने कहा कि जुलाई से लगातार कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी मोदी सरकार से कह रहे हैं कि पेट्रोल-डीजल को जीएसटी के अंदर ले आइए, लेकिन इसका मोदी सरकार ने कोई जवाब नहीं दिया है। पेट्रोल डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर मोदी सरकार पर हमला करते हुए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अशोक गहलोत ने कहा कि महंगाई की मार ने सबकी कमर तोड़ दी है। डीजल-पेट्रोल और गैस सिलेंडर ने जीना हराम कर दिया है।

Previous articleसोशल मीडिया: “अदालत के कह देने से सब ‘बराबर’ हो जाता है, तो अदालत एक बार कह दे ‘रूपया-डॉलर’ भी बराबर है”
Next articleHomosexuality is genetic disorder, hope next government moves 7-judge bench: Subramanian Swamy