दिल्ली में एयर होस्टेस की मौत की गुत्थी उलझी: परिवार का आरोप- खुदकुशी नहीं यह हत्या है, पिता ने पहले ही थाने में की थी शिकायत

0
Follow us on Google News

दक्षिणी दिल्ली के हौज खास इलाके में लुफ्थांसा एयरलाइन्स में काम करने वाली 39 वर्षीय की एक एयर होस्टेस अनीशिया बत्रा की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत का मामला उलझ गया है। पुलिस जांच के बावजूद पॉश इलाके पंचशील पार्क में बत्रा की दूसरी मंजिल से संदिग्ध हालात में मौत का मामला उलझता जा रहा है। एक तरफ जहां अनीशिया के पति मयंक सिंघवी के मुताबिक, एयर होस्टेस ने छत से कूदकर खुदकुशी की है, वही अनीशिया के भाई करण बत्रा को शक है कि उनकी बहन की हत्या की गई है।

अनीशिया के परिवार का आरोप है कि यह आत्महत्या नहीं बल्कि हत्या का मामला है, परिवार इस मामले को दहेज हत्या का मामला बता रहा है। परिवार के आरोपों के बाद पुलिस ने आईपीसी की धारा 304 (बी) के तहत दहेज हत्या का केस दर्ज करते हुए मैजिस्टीरियल जांच शुरू कर दी है। हालांकि अब तक इस केस में कोई गिरफ्तारी नहीं की गई है।

डीसीपी (साउथ) रोमिल बानिया ने बताया कि अनीशिया एक जर्मन एयरलाइन में एयरहोस्टेस थी। यह घटना शुक्रवार (13 जुलाई) की शाम करीब साढ़े चार बजे हुई। बानिया ने बताया है कि परिजनों की शिकायत पर इस मामले में आईपीसी की धारा 304B यानी दहेज के लिए हत्या के तहत हौज खास पुलिस स्टेशन में केस दर्ज किया गया है। हालांकि आरोपी की गिरफ्तारी अब तक नहीं हुई है।

पुलिस ने बताया कि अनीशिया ने 13 जुलाई को अपने घर की छत से छलांग लगा दी। जिसके बाद उसका पति उसे तुरंत नजदीकी अस्पताल ले गया जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। मृतक महिला की शादी दो साल पहले हुई थी। वह हौजखास में अपने पति के साथ रहती थी। पुलिस ने बताया कि आत्महत्या से पहले अनीशिया ने अपने पति मयंक को संदेश भेजा था कि वह आत्महत्या करने जा रही है।

दोनों में होता था झगड़ा

महिला का पति गुड़गांव में सॉफ्टवेयर इंजीनियर के रूप में काम करता है। मृतका के पति ने पुलिस को बताया कि उनका नियमित रूप से झगड़ा होता था। पुलिस ने बताया कि दंपति में शुक्रवार को भी झगड़ा हुआ, जिसके बाद अनिसिया छत से कूद गई। पुलिस ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। मामला दर्ज करके उसके परिवार और पति से पूछताछ की जा रही है।

डीसीपी रोमिल बानिया ने बताया कि प्रथम दृष्टया मामला आत्महत्या का लग रहा है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा था। रिपोर्ट में भी हत्या की कोई बात सामने नहीं आई है। अनीशिया के परिजन ने इसे हत्या का मामला बताते हुए पुलिस से फिर से पोस्टमार्टम कराने और उसकी वीडियोग्राफी कराने की मांग की है।

खबरों के मुताबिक, शादी के बाद से ही अनीशिया और मयंक के रिश्ते अच्छे नहीं थे। उनमें अक्सर झगड़े होते थे। शादी से बाद से अनीशिया की मौत तक उनके झगड़े की शिकायत चार बार थाने में पहुंची थी। शिकायत मिलने के बाद पुलिस दोनों को थाने बुलाकर समझौता कराने के साथ भेज देती थी।

एयर होस्टेस के पिता राजेनद्र सिंघवी आर्मी से रिटायर मेजर जनरल है। आरोप है कि मयंक की यह दूसरी शादी थी लेकिन उसने यह बात अनीसिया व उसके परिजनों से छिपाई थी। वह अनीसिया के साथ मारपीट करता था। पड़ोसी अमरपाल कोहली ने बताया कि दोनों पति-पत्नी में आए दिन झगड़ा होता रहता था।

परिजनों का आरोप, दहेज के लिए किया जा रहा था प्रताड़ित

मृतक अनीशिया बत्रा लुफ्थांसा एयरलाइन्स में बतौर केबिन क्रू काम करती थीं। 23 फरवरी 2018 को उनकी शादी मयंक सिंघवी के साथ हुई थी जो इन्वेस्टर बैंकर हैं। परिजनों का आरोप है कि शादी के बाद जब अनिशिया हनीमून के लिए दुबई गयी तो मयंक ने होटल में ही अनिशिया के साथ मारपीट शुरू कर दी थी। पुलिस को दिए एक बयान में अनीशिया की मां नीलम ने आरोप लगाया कि शादी के बाद हनीमून के दूसरे दिन ही दुबई में मयंक ने उनकी बेटी के साथ मारपीट की थी, जिसके बाद उन्होंने अपनी सुरक्षा के लिए बेटी से अलग कमरे में ठहरने की सलाह दी थी।

उन्होंने कहा, ‘अनीशिया पूरी रात मुझे मेसेज करती रही। अगले दिन उसने होटल छोड़ दिया और अपनी एक दोस्त के घर चली गई। वहां से वह एयरपोर्ट गई और भारत वापस आ गई।’ नीलम ने बताया कि उन्होंने बेटी को ये सारी बातें अपने ससुरालवालों को बताने की सलाह दी थी। अनीशिया के परिवार का कहना है कि एक हफ्ते बाद मयंक शराब पीकर घर आया था उसने अनीशिया के साथ मारपीट की थी। उनका कहना है कि शादी के बाद उन्हें पता चला कि मयंक तलाकशुदा है।

एफआईआर के मुताबिक नीलम ने कहा, ‘दोपहर 12:11 बजे मैंने उसे फिर मेसेज कर हालचाल लिया, लेकिन उसने कोई जवाब नहीं दिया। इसके बाद मयंक ने मुझे दो बार फोन किए और गालियों भरे मेसेज भेजे।’ शुक्रवार दोपहर 3 बजे अनीशिया के पिता को उनके खुदकुशी की खबर मिली और उन्होंने पत्नी नीलम को बताया।

पिता ने पहले भी हौजखास थाने में की थी शिकायत 

वहीं अनीशिया के भाई करण बत्रा ने बताया कि उसके पिता ने 27 जून को हौजखास थाने में शिकायत दी थी। शिकायत में कहा गया था कि मयंक उनकी बेटी के साथ मारपीट करता है, लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। वह बैंगलुरु में रहता है और बेटे चंडीगढ़ में रहते है। उन्हें दिल्ली आए दो दिन हो गए है, लेकिन उन्हें इंसाफ नहीं मिल रहा है। पुलिस की मिलीभगत के चलते मयंक ने घर से काफी सबूत मिटा दिए हैं।

करण का आरोप है कि, ‘शुरू से ही अनीशिया के ससुरालवाले दहेज की मांग करते थे। मयंक ने वादा किया था कि दोबारा मारपीट नहीं होगी और वह दोबारा शराब पीकर ऐसी हरकत नहीं करेगा, लेकिन अनीशिया के खुदकुशी से पहले भी मेसेज से पता चला था कि उसने फिर बहन के साथ मारपीट की।’ करण का कहना है कि उनकी बहन की हत्या की गई है, यह सूइसाइड नहीं है।

 

 

 

 

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here