प्रदर्शनकारी किसानों की ‘ट्रैक्टर परेड’ के दौरान हिंसा में 86 पुलिसकर्मी घायल, अब तक 22 FIR दर्ज; लाल किले में भारी फोर्स की तैनाती

0

गणतंत्र दिवस के मौके पर देश की राजधानी दिल्ली में किसानों की ट्रैक्टर परेड के दौरान हुई हिंसक झड़पों में कुल 86 पुलिसकर्मी घायल हो गए, जिसमें से कई गंभीर रुप से घायल हुए हैं। वहीं, ट्रैक्टर रैली में हुई हिंसा में बुधवार की सुबह तक 22 मामले दर्ज किए जा चुके हैं। इसके साथ ही पूरे लाल किले में भारी फोर्स की तैनाती की गई है। इसके साथ ही लाल किला मेट्रो स्टेशन पर प्रवेश को बंद कर दिया गया है। हालांकि, निकासी की अनुमति है। बाकी मेट्रो स्टेशनों पर सेवाएं सामान्य रूप से चल रही हैं।

गौरतलब है कि, किसानों ने गणतंत्र दिवस के दिन राजधानी दिल्ली की सड़कों पर ट्रैक्टर परेड निकाली थी। ट्रैक्टर परेड के दौरान कई जगह जवान और किसान आमने-सामने आए। कई जगह पुलिस और किसानों के बीच झड़प हुई, पत्थरबाजी हुई तो पुलिस ने लाठीचार्ज भी किया और आंसू गैस के गोले दागे। किसानों की ट्रैक्टर परेड के दौरान हुई हिंसा में कुल 86 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। दिल्ली के नॉर्थ डिस्ट्रिक्ट के करीब 45 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। घायल पुलिसकर्मियों में से कुछ की हालत नाजुक बताई जा रही है।

दिल्ली पुलिस ने कहा कि प्रदर्शनकारी किसानों ने ‘ट्रैक्टर परेड’ के लिए जिन शर्तों पर पहले बनी सहमति बनी थी, उनका उल्लंघन किया। उन्होंने हिंसा और तोड़फोड़ की, जिसमें कम से कम 86 पुलिसकर्मी घायल हो गए। राष्ट्रीय राजधानी में प्रदर्शनकारी किसानों और पुलिस के बीच किसानों की ट्रैक्टर परेड के दौरान झड़पें देखने को मिली। किसानों ने केंद्र के नये कृषि कानूनों को रद्द करने की अपनी मांग को लेकर सरकार पर दबाव बनाने के लिए यह परेड निकाली थी, जिसके लिए दिल्ली पुलिस ने कुछ मार्ग निर्धारित किए थे।

गणतंत्र दिवस के मौके पर दिल्ली में किसानों की ट्रैक्टर रैली में हुई हिंसा में बुधवार की सुबह तक 15 मामले दर्ज किए जा चुके हैं। ट्रैक्टर रैली में रैली के रूट से हटकर उग्र होकर लाल किले में पहुंचे सभी प्रदर्शनकारियों को किले से बाहर निकाल दिया गया है और पूरे किले में भारी फोर्स की तैनाती की गई है।

पुलिस ने बताया कि ज्यादातर मुकरबा चौक, गाज़ीपुर, आईटीओ, सीमापुरी, नांगलोई टी पॉइंट, टिकरी बॉर्डर और लाल किले पर हुई हिंसा के मामले 86 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं और आठ बसों सहित 17 निजी गाड़ियों को नुकसान पहुंचाया गया है।

Previous articleShocking video captures Delhi Police cops running for safety, jumping off wall at Red Fort
Next articleकिसानों की ट्रैक्टर रैली के दौरान हिंसा: कंगना रनौत ने तस्वीर शेयर कर दिलजीत दोसांझ और प्रियंका चोपड़ा पर साधा निशाना, ट्रोल ने वरुण ग्रोवर के लिए किया आपत्तिजनक ट्वीट