योगी के मंत्री बोले- ‘सरकार बदल गई है लेकिन घोड़े और गधे वही हैं’

0

उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एक तरफ राज्य में सबका साथ सबका विकास के नारे को लागू करने पर जोर दे रहे हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सत्ता संभालने के बाद से ही पूरे राज्य में सख्ती से काम कर रही है। लेकिन उनके मंत्री बेतुके बयान देने से बाज नहीं आ रहे हैं।

योगी
photo- navbharattimes

नवभारत टाइम्स कि ख़बर के मुताबिक, शनिवार को गाजीपुर में विधायकों और कार्यकर्ताओं के सम्मान समारोह में योगी सरकार में भूमि व जल संसाधन मंत्री उपेंद्र तिवारी ने प्रदेश के अफसरों व अधिकारियों की तुलना जानवरों से कर डाली। उन्होंने कहा कि, ‘सरकार बदल गई है लेकिन घोड़े और गधे वही हैं चाहे वह DGP, मुख्य सचिव या प्रमुख सचिव के रूप में हों, वे आज भी वही हैं। घोड़ा वही होगा लेकिन जब घुडसवार बढ़िया होगा तो वही चेतक के रूप में दौड़ेंगे।

योगी जी की सरकार बनने के 12 दिन के बाद सब कुछ बदल गया है। जो अधिकारी दौड़ने का काम नहीं करेगा उसकी जगह काम करने की नहीं बल्कि जेल में होगी। साथ ही ‘उन्होंने कहा कि, ‘डायल 100 अब तक वसूली करने का काम करता था, लेकिन योगी सरकार बनने के बाद सबकुछ बदल गया है, पुरानी सरकार की वजह से अब तक अफरा-तफरी मची है।’

उपेन्द्र तिवारी ने आगे कहा कि, ‘यूपी बोर्ड की परीक्षाएं जब शुरू होती हैं तो कहा जाता है कि नकल का महोत्सव शुरू हो गया है।’ वजह यह है कि UP बोर्ड और नकल एक-दूसरे के पर्यायवाची बन चुके हैं। नयी सरकार बनने के बाद लोगों को लगा था कि नकल पर जरूर रोक लग जायेगी लेकिन नकल पर नकेल नहीं कसी जा सकी है क्योंकि अभी भी पुराने जिला विद्यालय निरीक्षक ही जिलों में तैनात हैं और जिला विद्यालय निरीक्षक लाखों रुपये लेकर नकल के लिये सेंटर अलॉट करते हैं।


आपको बता दें कि, इससे पहले भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के विधायक विक्रम सैनी ने विवादित बयान देते हुए कथित तौर पर कहा कि अगर कोई व्यक्ति वंदे मातरम या भारत माता की जय नहीं बोलेगा या कोई गोहत्या करेगा तो मेरा वादा था कि मैं उसके हाथ-पैर तुड़वा दूंगा।

सैनी ने कहा है कि ‘जो गो-माता को माता न मानते हों और उनकी हत्या करते हों, तो मैंने वादा किया था कि ऐसे लोगों के हाथ पैर तुड़वा दूंगा।’ साथ ही बीजेपी विधायक ने कहा की मेरे साथ युवाओं की टीम है। यह टीम ऐसी है कि अगर पाकिस्तान या चीन से युद्ध हो जाए तो बिना वेतन लिए सीमा पर जा सकते हैं।

इतना ही नहीं बीजेपी विधायक ने यहां तक कह दिया कि ‘जो व्यक्ति वंदे मातरम बोलने में संकोच करता हो, या भारत माता के नारे लगाते हुए जिसका सीना चौड़ा न होता हो और जो गोमाता को माता न मानते हो और उनकी हत्या करते हों, तो मैंने वादा किया था कि ऐसे लोगों के हाथ पैर तुड़वा दूंगा।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here