राहुल गांधी के मुख्य सहयोगी सैम पित्रोदा ने टाइम्स नाउ को दिया ‘एक्सक्लूसिव’ इंटरव्यू, बाद में ट्वीट कर चैनल पर निकाली भड़ास

0

राहुल गांधी के हाल के दिनों में तमाम विदेशी दौरों का खाका खींचने वाले कांग्रेस अध्यक्ष के मुख्य सहयोगी सैम पित्रोदा ने अंग्रेजी समाचार चैनल टाइम्स नाउ को पहले तो एक ‘एक्सक्लूसिव’ इंटरव्यू दिया, फिर बाद में उन्होंने इस इंटरव्यू को लेकर निराशा व्यक्त की है, साथ ही एक के बाद एक ट्वीट कर चैनल और उनके संपादक पर भड़ास निकाली है। आपको बता दें कि राहुल गांधी ने भी टाइम्स नाउ को ही अपना पहला इंटरव्यू दिया था, जिसका उन्हें खामियाजा भुगतना पड़ा था।

देश में टेलीकॉम और सूचना तकनीक क्रांति लाने में सहयोग देने वाले सैम पित्रोदा ने ट्वीट कर टाइम्स नाऊ के एडिटर-इन-चीफ राहुल शिवशंकर के प्रति नाराजगी व्यक्त की है। सैम पित्रोदा ने एक के बाद एक ट्वीट कर टाइम्स नाउ को दिए इंटरव्यू को लेकर अफसोस जताया है। उनके ट्वीट को देखने के बाद ऐसा लग रहा है कि चैनल को इंटरव्यू देकर वह काफी निराश हैं।

पित्रोदा ने ट्वीट कर कहा है कि वह टाइम्स नाउ से बहुत निराश हैं। टाइम्स नाउ को वह इसलिए इंटरव्यू देने के लिए तैयार हुए क्योंकि उनसे कहा गया था कि ‘तटस्थ पत्रकार’ राहुल शिवशंकर उनसे सभी ज्वलंत मुद्दों पर बात करेंगे। उनके मुताबिक 25 मिनट के इंटरव्यू के दौरान उनसे वादा किया गया था कि देश की अर्थव्यवस्था और विदेशों में राहुल गांधी की यात्राओं को लेकर सवाल पूछा जाएगा।

सैम पित्रोदा ने एक के बाद एक ट्वीट कर कहा है कि मुझे उम्मीद थी कि चैनल के मुख्य संपादक राहुल शिवशंकर एक तटस्थ पत्रकार की भूमिका में सवाल पूछेंगे। आर्थिक, जॉब्स, तकनीक और विदेशों में राहुल गांधी के दौरे और विचारों पर चर्चा करने के लिए एक पेशेवर के रूप में 25 मिनट के इंटरव्यू के लिए सहमत हुए, क्योंकि मुझे लगा कि वह इस इंटरव्यू के दौरान सच्चाई को भी कुछ जगह देंगे।

पित्रोदा ने आगे लिखा कि लेकिन वह बाद में यह देखकर बहुत ही आश्चर्यचकित थे कि राहुल शिवशंकर ने यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी और उनके बेटे राहुल गांधी के खिलाफ नेशनल हेराल्ड विवाद मामले में सवाल पूछना शुरू कर दिया, न कि ‘अर्थव्यवस्था’ से जुड़े सवाल किया गया, जिसके लिए उन्हें आमंत्रित किया गया था। उन्होंने कहा कि चैनल के संपादक शिवशंकर ने गुजारिश करने के बावजूद उन सवालों पर चर्चा के लिए सहमत नहीं हुए।

राहुल शिवशंकर ने पित्रोदा के आरोपों को किया खारिज

हालांकि, चैनल के संपादक राहुल शिवशंकर ने पित्रोदा के आरोपों को खारिज कर दिया है। शिवशंकर ने पित्रोदा के दावों पर पटलवार करते हुए कहा है कि इंटरव्यू को लेकर आपके द्वारा लगाए गए सभी आरोप निराधार है। राहुल ने भी एक के बाद एक कई ट्वीट कर कहा है कि पत्रकार जवाब निकालने के अवसर तलाशते हैं। अगर आपको कुछ गलत लगा तो आप इंटरव्यू को समाप्त कर सकते थे, लेकिन आपने ऐसा नहीं किया। टाइम्स नाउ किसी के प्रचार का मंच नहीं है। मेरे ऑफिस ने आपको सूचित किया था कि आपसे कठिन सवाल पूछे जाएंगे। जिसके बाद भी आप इंटरव्यू देने को राजी हो गए थे।

 

Pizza Hut

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here