उत्तर प्रदेश में बेटियां सुरक्षित नहीं! आजमगढ़ में 8 साल की बच्ची और बुलंदशहर में 14 वर्षीय किशोरी से बलात्कार

0

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार भले ही महिलाओं की सुरक्षा को लेकर लाख दावे कर रही हो, लेकिन हकीकत इससे काफी दूर है। राज्य से रोज मासूम बच्चियों और महिलाएं से रेप व छेड़छाड़ की कोई न कोई घटनाएं सामने आती ही रहती है, जो चीख-चीखकर बता रही हैं कि यूपी में महिलाएं कहीं भी सुरक्षित नहीं है। इस बीच, आजमगढ़ में 8 साल की बच्ची और बुलंदशहर में 14 वर्षीय किशोरी से बलात्कार की घटना सामने आई है।

उत्तर प्रदेश
प्रतिकात्मक फोटो

आजमगढ़ में 8 साल की बच्ची से बलात्कार

उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जिले के जीयनपुर क्षेत्र के एक गांव में 8 साल की बच्ची के साथ 20 वर्षीय युवक ने कथित तौर पर दुष्कर्म किया। पुलिस ने बुधवार को कहा कि बच्ची की मां द्वारा दर्ज कराई गई शिकायत के अनुसार, आरोपी बच्ची को नहलाने के बहाने अपने घर ले गया था। आजमगढ़ के पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार सिंह ने कहा कि दानिश नामक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है।

बुलंदशहर में 14 वर्षीय किशोरी से बलात्कार

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में एक नाबालिग लड़की के साथ उसके ही पड़ोसी ने कथित रूप से बलात्कार किया। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह ने बुधवार रात बताया कि लड़की के पिता ने इस बाबत तहरीर दी है और आरोप लगाया कि उनकी 14 वर्षीय लड़की से पड़ोस में रहने वाले रिजवान (20) ने मंगलवार को बलात्कार किया।

पुलिस ने बताया कि पीड़िता का इलाज चल रहा है। उन्होंने बताया कि आरोपी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है और उसे पकड़ने की कोशिश की जा रही हैं। पुलिस ने बताया कि आरोपी को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

बता दें कि, उत्तर प्रदेश में हाल ही में एक के बाद एक रेप की कई वारदातें सामने आई हैं। हाथरस में 14 सितंबर को चार हैवानों का शिकार बनी दलित लड़की की मौत हो गई। चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस पर परिवार को बंधक बनाकर पीड़िता का जबरन अंतिम संस्कार करने का आरोप लगा है। इस मामले की जांच के लिए CM योगी आदित्यनाथ ने SIT का गठन किया है।

बता दें कि, यूपी के हाथरस में दलित युवती के साथ निर्भया जैसी हैवानियत पर सियासत गरमा गई है। सोशल मीडिया पर लोगों का आक्रोश झलक रहा है। (इनपुट: भाषा के साथ)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here