उत्तर प्रदेश में बेटियां सुरक्षित नहीं! एटा में दलित लड़की के साथ गैंगरेप

0

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार भले ही महिलाओं की सुरक्षा को लेकर लाख दावे कर रही हो, लेकिन हकीकत इससे काफी दूर है। राज्य से रोज रेप की कोई न कोई घटनाएं सामने आती ही रहती है, जो चीख-चीखकर बता रही हैं कि यूपी में महिलाएं कहीं भी सुरक्षित नहीं है। देश में कड़े कानून बनने के बावजूद भी मासूम बच्चियों और महिलाएं से रेप व छेड़छाड़ के मामलों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है, आए दिन कोई न कोई वारदात हमें शर्मसार कर देती है।

उत्तर प्रदेश

ऐसा ही एक और ताजा मामला उत्तर प्रदेश के एटा जिले से सामने आया है, जहां दलित लड़की से कथित तौर पर गैंगरेप की वारदात सामने आई है।  मामले की जानकारी मिलते ही परिजनों में पुलिस में शिकायत दर्ज कराई. तहरीर के आधार पर पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

जानकारी के मुताबिक, गुरुवार को एटा के जैथरा इलाके के एक गांव में एक लड़की के साथ कथित तौर पर गैंगरेप का मामला सामने आया है। समाचार एजेंसी ANI के मुताबिक पुलिस का कहना है कि, ‘मामले में आईपीसी की धारा 506 तथा एससी/एसटी ऐक्ट के अलावा विभिन्न धाराओं में केस दर्ज कर लिया गया है।’ पुलिस मामले की जांच कर रही है।

बीते सप्ताह भी यूपी के एटा से इंसानियत को झकझोरने वाला मामला सामने आया था। यहां एक अस्पताल में वीलचेयर या स्ट्रेचर न होने पर एक पिता को अपनी रेप विक्टिम बेटी को पीठ पर लादकर भटकना पड़ा। इसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो गया था, जिसके बाद अस्पताल प्रशासन से जवाब मांगा गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here