1 लाख वोटों की शर्त हार जाने पर मीडिया से मुंह छिपाकर भाग निकले पहलाज निहलानी

0

सेंसर बोर्ड ऑफ फिल्म सर्टिफिकेशन के प्रमुख पहलाज निहलानी ने शाहरुख खान और अनुष्का शर्मा की आगामी फिल्म ‘जब हैरी मेट सेजल’ में ‘संभोग’ शब्द पर आपत्ति जताते हुए इस शब्द के इस्तेमाल करने पर शर्त तय कर दी थी।  पहलाज निहलानी ने मीडिया से बात करते हुए कहा था कि शाहरुख खान और अनुष्का शर्मा की आगामी फिल्म ‘जब हैरी मेट सेजल’ के फिल्म में ‘इंटरकोर्स’ शब्द को मंजूरी दे देंगे अगर फिल्म मेकर्स (इम्तियाज अली) 01 लाख लोगों का वोट अपने समर्थन में ले आएं।

पहलाज निहलानी

साथ ही उन्होंने कहा था कि, आप वोट करवाइए और मैं इस फ़िल्म के प्रोमो और बॉडी से ये शब्द नहीं हटवाऊंगा। मुझे इसके लिए एक लाख वोट्स चाहिए, मैं देखना चाहता हूं कि भारतियों की सोच बदली है या नहीं।

पहलाज निहलानी ने शर्त तो तय कर दी लेकिन वो भूल गए शाहरूख खान या इम्तियाज अली के लिए सोशल मीडिया पर 1 लाख वोट जमा करना बेहद ही आसान काम है। उन्हें 1 लाख वोट आसानी से मिल गए। इसके बाद अपनी शर्त हार जाने पर जब मीडिया ने पहलाज निहलानी से बात करनी चाही तो मीडिया के हाथ कमाल का वीडियो लगा।

पत्रकार लगातार पहलाज निहलानी को उनकी शर्त याद दिलाती रही लेकिन पहलाज निहलानी के मुंह से एक शब्द न निकला, उन्होंने इस मुद्दे पर अपनी चुप्पी साध ली और पत्रकार से जान बचाकर भाग निकले।

गौरतलब है कि पहलाज निहलानी शाहरुख खान अभिनीत फिल्म ‘जब हैरी मेट सेजल’ की झलक बिना उचित प्रमाणन और अनुमति के मीडिया खासकर टेलीविजन द्वारा दिखाए जाने से नाराज थे। इम्तियाज अली की फिल्म के एक छोटे से ट्रेलर में अभिनेत्री अनुष्का शर्मा, शाहरुख को ‘इन्डेम्न्डि बॉन्ड’ यह कहते हुए देती नजर आ रही हैं कि अगर वे अंतरंग संबंध बनाना बंद कर दें तो कोई भी कानूनी समस्या नहीं होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here