“किसी ने सोचा नहीं था मीडिया वायरस पत्रकारिता छोड़कर सत्ता की दलाली करेगा”, पीएम मोदी की तारीफ कर एक बार फिर ट्रोल हुए रजत शर्मा

0

वरिष्ठ पत्रकार और समाचार चैनल इंडिया टीवी के चेयरमैन व एडिटर इन चीफ रजत शर्मा अपने एक ट्वीट को लेकर एक बार फिर से सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गए है, लोग उन्हें जमकर ट्रोल कर रहे हैं। बता दें कि, रजत शर्मा ने इस बार एक बार फिर से ट्वीट कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ की, जिसके बाद वह सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गए।

रजत शर्मा

बता दें कि, कोरोना वायरस संकट के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार की रात राष्ट्र के नाम संबोधन में 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक पैकेज का ऐलान किया है। पीएम ने कहा है कि यह जीडीपी के 10 फीसदी के बराबर है। उन्होंने कहा कि भारत की अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाने के लिए आत्मनिर्भर बनना बहुत जरूरी है। उद्योग और उससे जुड़े लोग लंबे समय से सरकार से पैकेज की मांग कर रहे थे ताकि कोरोना वायरस लॉकडाउन के चलते ठप पड़ी आर्थिक गतिविधियों को फिर से शुरू किया जा सके।

प्रधानमंत्री के भाषण को कई लोगों ने पसंद किया तो कइयों ने उसमें खामियां ढूंढने की भी कोशिश की। इस बीच, पीएम मोदी के भाषण पर वरिष्ठ पत्रकार रजत शर्मा ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी। रजत शर्मा ने कहा कि वे हमेशा इस बात के पक्षधर रहे हैं कि पीएम नरेन्द्र मोदी संकट को अवसर में बदलने की जबरदस्त क्षमता रखते हैं।

पीएम मोदी का तारीफ करते हुए रजत शर्मा ने अपने ट्वीट में लिखा, “किसी ने नहीं सोचा था कि बीस लाख करोड़ का पैकेज होगा। किसी को उम्मीद नहीं थी कि लैंड, लेबर और लिक्विडिटी में सुधार की आशा दिखाई देगी। मैं हमेशा कहता हूँ नरेन्द्र मोदी में संकट को अवसर में बदलने की ज़बरदस्त क्षमता है।”

समाचार चैनल इंडिया टीवी के चेयरमैन व एडिटर इन चीफ रजत शर्मा अपने इस ट्वीट को लेकर सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गए, लोगों ने उन्हें ट्रोल करना शुरु कर दिया। उनके इस ट्वीट पर कई यूजर्स ने तीखी प्रतिक्रिया दी।

एक यूजर ने लिखा, “सही है अवसरवादी है लेकिन सिर्फ अमीरों के और अपनी पार्टी के फायदे के लिए, बाकी जनता और भक्तो के लिए तो बड़े बड़े जुमले ही है।” एक अन्य यूजर ने लिखा, “गरीब जनता जो सड़को पर भटक रही हैं उनके लिए एक शब्द भी नही बोला गजब की क्षमता हैं साहब में अच्छे सवालों से बच निकलने की।”

एक अन्य यूजर ने लिखा, “33 मिनट 56 सेकंड के भाषण में एक भी लफ़्ज़ सड़कों पर पैदल भूखे प्यासे “मज़दूरों” के लिए नही निकला उस पर भी अकड़ इतनी की पूरी दुनिया हमारे प्रयासों की तारीफ़ कर रही। मज़ाक़ बना कर रख दिया गरीब मज़दूरों का इस सरकार ने।”

एक अन्य यूजर ने लिखा, “मैं हर बार की तरह बोलता हूँ तू चाटूकार हो। ओर ये 20 लाख करोड़ 15 लाख की तरह जुमला है।” एक अन्य यूजर ने लिखा, “किसी ने सोचा नहीं था #मीडिया_वायरस पत्रकारिता छोड़कर सत्ता की #दलाली करेगा।”

बता दें कि, इसी तरह तमाम यूजर्स रजत शर्मा के ट्वीट पर अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे है। ये कोई पहला मामला नहीं है जब वरिष्ठ पत्रकार रजत शर्मा पीएम मोदी की तारीफ करने को लेकर ट्रोल हुए हो, वो इससे पहले भी कई बार पीएम की तारीफ करने को लेकर ट्रोल हो चुके है।

देखें कुछ ऐसे ही ट्वीट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here