“70 साल में पहली बार मीडिया को सत्तासीन पार्टी का प्रवक्ता बनते देखा है”, पीएम मोदी की तारीफ कर बुरी तरह ट्रोल हुए वरिष्ठ पत्रकार रजत शर्मा

0

वरिष्ठ पत्रकार और समाचार चैनल इंडिया टीवी के चेयरमैन व एडिटर इन चीफ रजत शर्मा अपने एक ट्वीट को लेकर एक बार फिर से सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गए है, लोग उन्हें जमकर ट्रोल कर रहे हैं। बता दें कि, रजत शर्मा ने इस बार ट्वीट कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ की, जिसके बाद वह सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गए।

फाइल फोटो: सोशल मीडिया

पीएम मोदी का तारीफ करते हुए वरिष्ठ पत्रकार रजत शर्मा ने रविवार (3 मई) को एक ट्वीट कर लिखा, “पिछले 70 साल में पहली बार किसी प्रधानमंत्री ने 40 दिन में मुख्यमंत्रियों से 4 बार बात की। 14 घंटे मशवरा किया। उनके कहने पर लॉकडाउन बढाया, मज़दूरों के लिए रेल चलाई। मु्ख्यमंत्री मानते हैं, फिर भी कुछ लोग कहते हैं केन्द्र राज्यों की नहीं सुनता। आखिर क्यों?”

समाचार चैनल इंडिया टीवी के चेयरमैन व एडिटर इन चीफ रजत शर्मा अपने इस ट्वीट को लेकर सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गए, लोगों ने उन्हें ट्रोल करना शुरु कर दिया। उनके इस ट्वीट पर कई यूजर्स ने तीखी प्रतिक्रिया दी।

एक यूजर ने लिखा, “70 साल में पहली बार मीडिया को सत्तासीन पार्टी का प्रवक्ता बनते देखा है। इतने बड़े बड़े पद यूं ही नही मिल गए सब को जाने कितनों को अरमानों को दबाया कुचला गया है आप की महत्वाकांक्षाओं के चलते।” एक अन्य यूजर ने लिखा, “70 साल में पहली बार ऐसी वैश्विक आपदा भी आई है।”

एक अन्य यूजर ने लिखा, “और किसी प्रधानमंत्री ने 70 साल में पहली बार किसी देश के टैक्स के पैसे से सैकड़ो देशों की यात्राएं की है, और प्रधानमंत्री राहतकोष होने के बाद भी पीएम केयर्स फंड बना हज़ारो करोड़ का चंदा लिया और आज उस फंड की जानकारी से इंकार कर रहे है,काम नही बाते बनाई इसलिए।”

एक अन्य यूजर ने लिखा, “बे-शर्मा इसे पत्रकारित्वता नही बल्कि चाटूकारिता कहते है जब देखो तब सरकार के तलवे चाटते रहते हो। इतने तारीफों के पुल तो तुमने अपनी पत्नी के लिए नही बांधे होंगे जितने नारंगि साहब के लिए बांधे है। एक पत्रकार कम और भाजपा का खुशामद करने वाला दौकौड़ी का कार्यकर्ता ज्यादा लग रहे हो।”

बता दें कि, इसी तरह तमाम यूजर्स रजत शर्मा के ट्वीट पर अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे है। ये कोई पहला मामला नहीं है जब उन्हें ट्रोल किया गया है। इससे पहले उन्होंने ट्वीट कर ऐसे शहरों के नाम बताए थे, जहां लाकडाउन का पालन नहीं हो रहा था। उनके उस ट्वीट पर भी खूब खिंचाई यूजर्स ने किए थे।

देखें कुछ ऐसे ही ट्वीट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here