राजनीति में एंट्री के बाद अपने पहले भाषण में मतदाताओं से बोलीं प्रियंका गांधी- “आप जागरुक बनें, इससे बड़ी कोई देशभक्ति नहीं”, पीएम मोदी पर साधा निशाना

0

राजनीति में एंट्री के बाद अपने पहले सार्वजनिक भाषण में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने मंगलवार (12 मार्च) को केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि देश में जो कुछ हो रहा है उससे वह दुखी हैं। इस साल होने वाले लोकसभा चुनाव से पहले अपने संबोधन के दौरान प्रियंका गांधी ने मतदाताओं से जागरुक होने की अपील करते हुए कहा कि जागरुक होने से बड़ी कोई देशभक्ति नहीं हैं।

@INCIndia

कांग्रेस महासचिव के रूप में प्रभार संभालने के बाद प्रियंका गुजरात में अपनी पहली राजनीतिक रैली को संबोधित कर रही थीं। गांधीनगर जिले के अदालाज गांव के निकट आयोजित पार्टी की इस रैली में प्रियंका गांधी वाड्रा के अलावा कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी भी मौजूद थी।

प्रियंका ने कहा, “आज मैं साबरमती गई जहां से गांधीजी ने देश की आजादी के लिए संघर्ष शुरू किया था। मेरे दिल में ऐसी भावना जागी कि आंखों में आंसू आने लगे। देशभक्तों के बारे में सोचा, जिन्होंने इस देश के लिए अपनी जान दी। यह देश प्रेम, सद्भावना और आपसी प्यार के आधार पर बना है। यहीं से गांधीजी ने प्रेम, अहिंसा और सद्भावना की आवाज उठाई थी, मुझे लगता है कि यहीं से आवाज उठनी चाहिए। जो लोग आपकी फितरत की बात करते हैं, उन्हें बताइए कि आपकी फितरत क्या है। इस देश की फितरत है कि नफरत की हवाओं को प्रेम और करुणा में बदलेगी, हर जर्रे से सच्चाई को निकालेगी।”

उन्होंने कहा, “आज जो कुछ भी देश में हो रहा है, उससे दुख होता है। हमारी संस्थाएं नष्ट की जा रही हैं, जहां भी देखिए नफरत फैलाई जा रही है। इससे बड़ी कोई देशभक्ति नहीं है कि आप जागरुक बनें, आपकी जागरुकता एक हथियार है, आपका वोट एक हथियार है। ये ऐसा हथियार है, जिससे किसी को चोट नहीं पहुंचाना, दुख और नुकसान नहीं पहुंचाना है। ये ऐसा हथियार है जो आपको मजबूत बनाएगा। इस चुनाव से आप अपना भविष्य चुनने जा रहे हैं।”

पीएम मोदी पर साधा निशाना

प्रियंका गांधी ने कहा कि फिजूल के मुद्दे नहीं, मुद्दे वो उठने चाहिए जो आपको आगे बढ़ाए। आपकी जागरूकता ही इन मुद्दों को आगे लाएगी। मैं आपसे आग्रह करना चाहती हूं कि इस बार सोच समझकर निर्णय लें।” उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने देश में करोड़ों लोगों को नौकरियां देने के अपने वादों को पूरा नहीं किया। उनसे पूछिए कि जो रोजगार का वचन दिया था, वो कहां है। जो 15 लाख खाते में आने थे, वो कहां गए।

बता दें कि कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गृह राज्य में रैली आयोजित करके आगामी लोकसभा चुनावों के लिए बिगूल फूंका। सरदार वल्लभ भाई पटेल राष्ट्रीय स्मारक में कांग्रेस कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) की बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और संप्रग अध्यक्ष सोनिया गांधी के नेतृत्व में पार्टी के शीर्ष नेतृत्व ने अहम चुनावी मुद्दों पर चर्चा हुई। पार्टी ने यहां साबरमती आश्रम में महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि देने के साथ दिन की शुरुआत की। (इनपुट- पीटीआई के साथ)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here