योगी के मंत्री ओम प्रकाश राजभर बोले- राहुल गांधी प्रधानमंत्री बनने के लायक

0

हमेशा अपने बयानों को लेकर मीडिया की सुर्खियों में रहने वाले योगी आदित्यनाथ सरकार में कैबिनेट मंत्री और भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की सहयोगी पार्टी भारतीय समाज पार्टी (सुहेलदेव) के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने सोमवार को कहा कि वह कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को प्रधानमंत्री बनने के काबिल पाते हैं।

ओम प्रकाश राजभर
फाइल फोटो

अपनी ही सरकार के खिलाफ बयानबाजी कर अकसर विवादों में रहने वाले योगी आदित्यनाथ सरकार में कैबिनेट मंत्री ओम प्रकाश राजभर ने बलिया में पत्रकारों से कहा, ‘मैं राहुल गांधी को प्रधानमंत्री बनने के काबिल पाता हूं। अंतिम फैसला लोगों के हाथ में है और वे तय करेंगे कि भारत का अगला प्रधानमंत्री कौन होगा।’ राजभर यहीं नहीं रुके और बीजेपी की असहजता बढ़ाते हुए उन्होंने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के मुद्दे को लेकर ‘लोगों को गुमराह करने का’ आरोप लगाया।

आदित्य नाथ के इस बयान पर कि अगर उन्हें मौका दिया जाए तो वह 24 घंटे में ही राम मंदिर मुद्दे का समाधान कर देंगे, राजभर ने मीडिया द्वारा इस बारे में पूछे गए सवाल के जवाब में कहा कि अगर वास्तव में बीजेपी में इतनी क्षमता थी, तो देश पर शासन के दौरान पिछले पांच सालों में इसने ऐसा क्यों नहीं किया। पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री ने कहा, ‘‘जब केंद्र सरकार पांच वर्षों में कुछ नहीं कर पाई तो मुख्यमंत्री 24 घंटे में क्या कर लेंगे।’’

उनसे जब प्रियंका गांधी के राजनीति में आने और मतदाताओं पर इसका प्रभाव पड़ने के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि सिर्फ वक्त बताएगा कि वह महज भीड़ को खींचती हैं या उसे वोट में भी तब्दील कर पाती हैं। बता दें कि ओम प्रकाश राजभर पहले भी बीजेपी पर निशाना साधते रहे हैं। इससे पहले भी कई मौकों पर वह यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और बीजेपी की आलोचना कर चुके हैं।

गौरतलब है कि कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने अपनी बहन प्रियंका गांधी को महासचिव बनाया है और उन्‍हें पूर्वी उत्‍तर प्रदेश की जिम्‍मेदारी दी है। प्रियंका गांधी का सक्रिय राजनीति में आना और उन्‍हें पूर्वी उत्‍तर प्रदेश की कमान दिया जाना कांग्रेस का मास्‍टर स्‍ट्रोक माना जा रहा है।

माना जा रहा है कि यूपी में एसपी और बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) के गठबंधन में कांग्रेस को जगह न मिलने के बाद कांग्रेस ने प्रियंका गांधी को सक्रिय राजनीति में उतारने का फैसला किया था। उन्हें उम्मीद है कि प्रियंका गांधी की एंट्री से यूपी में कांग्रेस की जड़ें मजबूत होंगी।

(इंपुट: आईएएनएस)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here