पद्मावती विवाद: नाहरगढ़ किले में शव मिलने के बाद जानिए क्या कहा करणी सेना प्रमुख ने?

0

संजय लीला भंसाली की फिल्म ‘पद्मावती’ को लेकर चल रहे विरोध प्रदर्शन ने अब जानलेवा मोड़ ले लिया है। शुक्रवार(24 नवंबर) की सुबह राजस्थान की राजधानी जयपुर के नाहरगढ़ किले में एक युवक का शव लटका मिला है। वहीं घटना की सूचना मिलते ही पूरे इलाके में हड़कंप मच गया है।

करणी सेना

नाहरगढ़ किले के बाहर मिले शव के पास पड़े पत्थर पर कोयले से लिखा है कि हम सिर्फ पुतले नहीं लटकाते। इसके अलावा एक दूसरे पत्थर पर लिखा है कि, ‘लोग ‘पद्मावती’ का विरोध कर रहे हैं, हम खुद को खत्म कर रहे हैं।’ हालांकि अभी यह भी पता नहीं लग सका है कि युवक ने आत्महत्या ही की है या उसे मारकर लटकाया गया है। फिलहाल, पुलिस हत्या और आत्महत्या दोनों एंगल से मामले की जांच कर रही है।

इसी बीच, जयपुर के नाहरगढ़ किले में शव मिलने पर करणी सेना के प्रमुख लोकेंद्र कालवी ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी है।एबीपी न्यूज़ से बात करते हुए लोकेंद्र कालवी ने कहा कि, जो कुछ हुआ वो बहुत गलत है। लोग जिस तरह आक्रोशित हो रहे हैं जोश में होश खो रहे हैं, उसे तुरंत बंद कर देना चाहिए।

हम इसका किसी भी तरह से समर्थन नहीं करते, ऐसा विरोध बिल्कुल गलत है। साथ ही लोकेंद्र कालवी ने कहा कि, यह घटना पूरी तरह से दुर्भाग्यपूर्ण है। करणी सेना के लोग इसलिए विरोध कर रहे हैं क्योंकि फिल्म में पद्मावती की छवि को गलत तरीके से दिखाया गया है।

बता दें कि, यह फिल्म पहले 1 दिसंबर को रिलीज होने वाली थी। लेकिन, हाल ही में विवादों के चलते ‘पद्मावती’ के निर्माताओं ने फिल्म की रिलीज की तारीख टाल दिया है। फिल्म को अभी तक सेंसर बोर्ड से सर्टिफिकेट भी नहीं मिला है।

उल्लेखनीय है कि पिछले काफी समय से फिल्म ‘पद्मावती’ के विषय के कारण कुछ समूह इसका विरोध कर रहे हैं। खासकर राजपूत मुख्य रूप से दावा कर रहे हैं कि फिल्म इतिहास को बिगाड़ रही है और रानी पद्मावती का गलत चित्रण कर रही है। बीजेपी और कुछ दूसरे संगठनों ने भी भंसाली की इस फिल्म का विरोध किया है।

करणी सेना का आरोप है कि फिल्म में दिल्ली के सुल्तान अलाउद्दीन खिलजी और रानी पद्मावती के बीच रोमांस को दिखाया गया है, जो इतिहास के साथ छेड़छाड़ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here