VIDEO: विधायक बेटे की गुंडागर्दी पर सवाल पूछा तो एंकर से बोले BJP नेता कैलाश विजयवर्गीय- “तुम्हारी हैसियत क्या है?”, सोशल मीडिया पर हुई तीखी आलोचना

0

मध्य प्रदेश के इंदौर में नगर निगम के एक अधिकारी की पिटाई के मामले में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के विधायक बेटे आकाश विजयवर्गीय को गिरफ्तारी के बाद कोर्ट से जमानत नहीं मिली है। आकाश को नगर निगम अधिकारी की पिटाई के बाद गिरफ्तार किया गया था। जिसके बाद कोर्ट ने आकाश को सात जुलाई तक न्यायिक हिरासत में भेजने के आदेश दिए।

आकाश के नगर निगम कर्मचारियों की पिटाई की घटना पर जब एक निजी चैनल के एंकर ने कैलाश विजयवर्गीय से सवाल पूछा तो वो पत्रकार पर ही भड़क गए। वीडियो वायरल होने के बाद समाचार चैनल न्यूज 24 के एंकर ने आकाश के पिता कैलाश विजयवर्गीय से सवाल पूछा कि आपके बेटे ने कानून को अपने हाथ में लेकर निगम अधिकारियों की पिटाई की। वे ऐसा कैसे कर सकते हैं? इस पर आपका क्या कहना है।

पहले तो कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि मेरा बेटा गलत काम नहीं कर सकता। फिर जब पत्रकार ने दोबारा पूछा कि यह तो वीडियो में दिख रहा है कि आकाश अधिकारियों की पिटाई कर रहे हैं। इस पर वह और ज्यादा भड़क गए और एंकर को कहा कि आप जज हैं क्या? पत्रकार के बार-बार सवाल पूछने पर कैलाश विजयवर्गीय ने आपा खो दिया और कहा कि तुम्हारी हैसियत क्या है?

बता दें कि आकाश भारतीय जनता पार्टी (BJP) के वरिष्ठ नेता और पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के बेटे हैं। आकाश विजयवर्गीय का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जिसमें वह इंदौर में क्रिकेट बैट से नगर निगम के एक अधिकारी की सरेआम पुलिस की मौजूदगी में पिटाई करते हुए नजर आ रहे हैं।

दरअसल, इंदौर में नगर निगम कर्मचारी एक अवैध मकान तोड़ने आए थे। मौके पर पहुंचे भाजपा विधायक आकाश ने अधिकारियों को वहां से चले जाने के लिए कहा, लेकिन जब वो नहीं हटे तो आकाश हाथ में बल्ला लेकर आए और उनकी पिटाई शुरू कर दी। बताया जा रहा है कि अधिकारी अतिक्रमण विरोधी अभियान के लिए क्षेत्र में थे। आकाश विजयवर्गीय की गुंडागर्दी का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है।

वीडियो में आकाश विजयवर्गीय जर्जर मकान तोड़ने गए इंदौर नगर निगम के एक अधिकारी को पुलिस की मौजूदगी में पीटते हुए नजर आ रहे हैं। रिपोर्ट के मुताबिक, भाजपा विधायक ने अधिकारी को पहले क्रिकेट बैट से मारा, फिर धक्कामुक्की की और गाली भी दी। आरोप है कि बाद में आकाश के समर्थक भी कथित तौर पर अधिकारी को पीटने लगे।

देखें, लोगों की प्रतिक्रियाएं:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here