“संशोधन के बाद कृषि कानून पसंद न आएं तो आंदोलन करें”: इंडिया टीवी के एंकर रजत शर्मा ने आंदोलनकारी किसानों को दी सलाह, जमकर हुए ट्रोल

0

समाचार चैनल इंडिया टीवी के चेयरमैन व एडिटर इन चीफ रजत शर्मा अपने एक ट्वीट को लेकर एक बार फिर से सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गए हैं, लोग उन्हें ट्रोल करते हुए जमकर खरी-खोटी सुना रहे हैं। दरअसल, कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन कर रहें किसानों को सलाह देने पर इंडिया टीवी के एंकर रजत शर्मा जमकर ट्रोल हो रहे हैं।

रजत शर्मा
फाइल फोटो

दरअसल, रजत शर्मा ने मंगलवार (19 जनवरी) को आंदोलनरत किसानों को सलाह देते हुए कहा कि, संशोधन के बाद कृषि कानून पसंद न आएं तो आंदोलन करें। शर्मा ने माइक्रो ब्लॉगिंग साइट पर ट्वीट करते हुए लिखा, “किसानों को मेरी सलाह- संशोधन के बाद कृषि कानून पसंद न आएं, तो आंदोलन करें।”

दरअसल, शर्मा ने अपनी वेबसाइट पर एक लेख लिखा था, जिसे उन्होंने ट्वीट में शेयर किया था। हिंदी समाचार चैनल के संपादक के आर्टिकल के अनुसार, “मोदी विरोधी मोर्चा अपना एजेंडा बढ़ाने के लिए किसानों का इस्तेमाल कर रहा है। उनमें से कुछ सामने आ गए हैं तो कुछ पर्दे के पीछे से ही सक्रिय हैं। उन्हें इस बात से मतलब नहीं है कि तीनों कृषि कानूनों को निरस्त करने की किसान नेताओं की जिद सही है या नहीं।”

रजत शर्मा के इस पोस्ट को लेकर सोशल मीडिया पर यूजर्स ने उन्हें ट्रोल करना शुरु कर दिया। एक यूजर ने लिखा, “शर्मा जी जब किसान इतना विकास नही चाहते है तो फिर क्यों जबर्दस्ती कानून थोप रहे हो।” एक अन्य यूजर ने लिखा, “किसानों के बुरे दिन है मगर इतने नहीं- कि आप जैसो की मुफ्त राय पर चल निकलें? खाई मे कूदने की बजाय पाट डालना भी जानता अन्नदाता?”

एक अन्य यूजर ने लिखा, “आपको मेरी सलाह आप पत्रकारिता बन्द करके चापलूसी चालू करें आप उसमे ज्यादा बेहतर कर पाएंगे भविष्य भी सुरक्षित है और पत्रकारिता के नाम पर कलंक भी नही लगेगा। उम्मीद करता हूँ आप इस सलाह को कतई सिरे से खारिज करेंगे।” एक अन्य यूजर ने लिखा, “रजत जी आंदोलन कर रहे है इसमें आप की सलाह की ज़रूरत नही है, अपने साहब के गुण ज्ञान गाओ।”

एक अन्य यूजर ने लिखा, “वह क्या राय दी है, शर्माजी ने। सब कुछ किसानों से ही कहेंगे, सरकार को कुछ नहीं बोलेंगे। सरकार को बोल दीजिए कि अभी कानून रद्द कर दें फिर किसानों के साथ उनकी रजामंदी से नए कानून बना लें। सरकार से भ्रष्टाचार मुक्त भारत पर कानून बनवा लें।” बता देंकि, इसी तरह तमाम यूजर्स उनके इस पोस्ट पर अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here