गुरु पूर्णिमा 2017: जानिए क्यों, नासा ने ट्विटर पर ‘गुरु पूर्णिमा’ का जिक्र किया

0

गुरु पूर्णिमा हिंदुओं का प्रमुख त्योहारों में से एक माना जाता है, यह त्योहार हर साल आषाढ़ मास की पूर्णिमा में मनाया जाता है। इस बार यह त्योंहार रविवार (9 जुलाई 2017) को मनाया जाएंगा।

गुरु पूर्णिमा
photo- twitter by @NASAmoon

लेकिन इस बार गुरु पूर्णिमा के त्योंहार को अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने बेहद खास बना दिया है। नासा के अधिकारिक ट्विटर हैंडल से एक पोस्ट किया गया है जिसमें चंद्रमा की एक बेहद खूबसूरत तस्वीर दिख रही हैै। इसके साथ ही पूर्णिमा के दिन चांद वाले को पूरी दुनिया में किन नामों से जाना जाता है इसका जिक्र किया है।

जिसमें गुरु पूर्णिमा का नाम सबसे ऊपर है इतना ही नहीं इसके अलावा इसमें हे मून, राइप कॉर्न मून, थंडर मून नाम भी बताए गए हैं। हर त्योहारों की तरह गुरु पूर्णिमा को लेकर भी सोशल मीडिया पर खूब चर्चा होती है।

 

हिन्दू परम्परा के अनुसार ऐसा माना जाता है कि गुरु पूर्णिमा को गुरु की पूजा करने से ज्ञान, शांति, भक्ति और योग शक्ति प्राप्त करने की शक्ति मिलती है। गुरु पूर्णिमा के दिन महाभारत के रचयिता कृष्ण द्वैपायन व्यास का जन्म हुआ था। मान्यता है कि उन्होंने चारों वेदों को लिपिबद्ध किया था, इस कारण उनका एक नाम वेद व्यास भी है और उनके सम्मान में गुरु पूर्णिमा को व्यास पूर्णिमा भी कहा जाता है।

बता दें कि, सोशल मीडिया पर नासा के द्वारा यह पोस्ट डालने के बाद जमकर शेयर किया जा रहा है। इसके साथ ही इस पोस्ट पर कई भारतीयों ने गुरु पूर्णिमा को स्वीकार करने के लिए नासा की सराहना की है।

Also Read:  मीट कारोबारी मोइन कुरैशी को प्रवर्तन निदेशालय ने किया गिरफ्तार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here