एक बार फिर से शहीद के घर में CM योगी के लिए प्रशासन ने लगाए सोफा और कूलर

0

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शनिवार(8 जुलाई) से गोरखपुर दौरे पर हैं। यहां वो कश्मीर में शहीद हुए सीआरपीएफ कर्मी सब-इंस्पेक्टर साहब लाल शुक्ला के परिजनों से मिलने उनके गांव पहुंचे और परिवारवालों से मिलकर संवेदना जताई। साथ ही परिजनों को सीएम ने 6 लाख की सहायता का चेक दिया और हरसंभव मदद का दिलासा दिया। लेकिन सीएम योगी से पहुंचने से पहले ही शहीद परिवार के घर पर प्रसासन ने जो खास इंतजाम किए गए थे वो एक बार फिर चर्चा में आ गया है।

शहीद
phpto- janman.tv

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, सीएम योगी के दौरे से पहले यहां प्रशासन ने उनके स्वागत के लिए रेप कार्पेट बिछाया था, खास सोफा भी मंगाया गया था। इतना ही नहीं साथ ही कूलर का भी विशेष इंतजाम किया गया गया था ताकी मुख्यमंत्री जी को गर्मी न लगे। शहीद के घर सीएम के दौरे के लिए इन तैयारियों पर फिर सवाल खड़े हो गए, बता दें कि यह कोई पहली बार नहीं है कि ऐसा किया गया हो।

Also Read:  महंगाई की मार: एक बार फिर से रसोई गैस की कीमतों में हुई बढ़ोतरी, 94 रुपए बढ़े बिना सब्सिडी वाले सिलेंडर के दाम
photo- hindi news18

पहले इस तरह का इंतजाम किया गया हो इससे पहले ऐसे ही योगी के अधिकारियों ने एक शहीद के परिवार के साथ भद्दा मजाक किया था। दरअसल, जम्मू-कश्मीर में पाकिस्तान की बर्बर कार्रवाई में यूपी के रहने वाले बीएसएफ के हेड कॉन्स्टेबल प्रेमसागर पिछले दिनों पुंछ में पाकिस्तान की बॉर्डर एक्शन टीम (बीएटी) के हमले में शहीद हो गए थे।

Also Read:  कांग्रेस का सवाल- 'मन की बात' में बेरोजगारी और महिलाओं के साथ दुर्व्यवहार पर क्यों नहीं बोलते PM मोदी?

शहीद होने के 11 दिन बाद योगी आदित्यनाथ प्रेमसागर के परिजन से मिलने देवरिया के टिकमपार गांव पहुंचे। सीएम योगी के दौरे के 24 घंटे पहले ही अधिकारियों ने शहीद के घर का नक्शा ही बदल दिया। जिस कमरे में सीएम योगी शहीद के परिजनों से मिलने वाले थे, उसमें फौरन एसी लगवाया गया। साथ ही सोफे और कालीन बिछाए गए।

Also Read:  सुषमा स्वराज को राष्ट्रपति बनाए जाने की अफवाहों के बीच नाराज शत्रुघ्न सिन्हा ने की आडवाणी के नाम की वकालत

लेकिन सीएम योगी के जाने के आधे घंटे के बाद ही अधिकारी द्वारा सब कुछ हटा लिया गया था। इसके अलावा कुशीनगर के दौरे पर सीएम से मिलने वालों को साबुन-शैम्पू भी दिया गया था। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सरकार बनने के बाद गरीबों के अपमान की लगातार खबरें आ रही हैं, जिस वजह से विपक्ष योगी सरकार पर गरीब विरोधी होने का आरोप लगा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here