हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने जारी किया घोषणा-पत्र

0

हिमाचल प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस ने बुधवार(1 नवम्बर) को अपना घोषणा-पत्र जारी किया है। इस घोषणा पत्र में कांग्रेस ने युवाओं से लेकर कर्मचारी वर्ग को साधने का प्रयास किया है, इस घोषणा-पत्र में पार्टी ने बड़े वादे किए हैं और कई वर्गों का ध्यान आकर्षित करने की कोशिश की है।

कांग्रेस

शिमला में राजीव गांधी भवन में मैनिफेस्टो कमेटी के अध्यक्ष कौल सिंह ठाकुर के अलावा, राज्य के सीएम वीरभद्र सिंह, हिमाचल प्रभारी सुशील कुमार शिंदे, सह-प्रभारी रंजिता रंजन ने मैनिफेस्टो रिलीज किया।

घोषणा पत्र के मुख्य पन्ने पर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी की तस्वीर है, जिनके साथ वीरभद्र भी हैं।

घोषणा पत्र की कुछ खा़स बातें

1- 50 हजार छात्रों को मुफ्त में लैपटॉप
2- 500 छात्रों को 1 जीबी डेटा देने का वादा
3- किसानों को एक लाख रुपए तक ब्याज मुक्त लोन
4- मनरेगा में काम करने वाले के लिए 100 दिन का काम का प्रावधान
5- सत्ता में आने पर डेढ़ लाख नौकरियों का सृजन करना
6- नए स्कूल-कॉलेजों में प्रशासनिक व गैर-प्रशासनिक नियुक्तियां
7- महिलाओं के लिए हर शहर में हॉस्टल

बता दें कि, मंगलवार (31 अक्टूबर) को ही हिमाचल प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार का नाम घोषित किया था। बीजेपी कि तरफ से राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल पार्टी के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार होंगे।

बीजेपी से पहले कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने सात अक्टूबर को घोषणा की थी कि निवर्तमान मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह पार्टी के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार होंगे। राहुल ने मुख्यमंत्री का समर्थन करते हुए कहा था कि वीरभद्र सिंह ने पूरे राज्य में समान विकास कराया और उन्हें भरोसा है कि कांग्रेस पार्टी सत्ता में वापस आएगी।

बता दें कि हिमाचल प्रदेश में विधानसभा की 68 सीटों के लिए नौ नवम्बर को चुनाव होने हैं, जबकि 18 दिसंबर को वोटों की गिनती की जाएगी।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here