‘स्वच्छ यूपी अभियान’ की तस्वीरों पर CM योगी हुए ट्रोल, लोगों ने कहा- ये बच्चों की लाशें है जिनकी सफाई हो रही है

0

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार(19 अगस्त) को गोरखपुर में बीजेपी के ‘स्वच्छ उत्तर प्रदेश, स्वस्थ उत्तर प्रदेश अभियान’ की शुरुआत की। इस दौरान उन्होंने लोगों से अपील की लोग कूड़ा इधर-उधर नहीं फेंके, उसका निस्तारण करें। साथ ही उन्होंने कहा कि, शौचालय निर्माण को शासन से पूरी मदद की जा रही है।

योगी

गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में इंसेफेलाइटिस से पीड़ित बच्चों की मौत पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जापानी बुखार गंदगी की वजह से होता है। प्रदूषित पानी भी बड़ी वजह है, इससे बचाव के लिए सफाई और जागरुकता जरूरी है। योगी ने कहा कि इंसेफलाइटिस से बचाव के लिए स्वच्छता जरुरी है। उन्होंने कहा कि गंदगी दूर करने से ही इंसेफलाइटिस मिटेगा।

साथ ही योगी ने कहा कि गांव में हर परिवार को शौचालय बनाने के लिए 12 हजार रुपए मिलेंगे। बच्चों की मौत के लिए योगी आदित्यनाथ ने पुरानी सरकारों को दोषी ठहराया।

अपना भाषण खत्म करने के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर के अंधियारी बाग मोहल्ले के दलित बस्ती में झाड़ू भी लगाई, जिसकी कुछ तस्वीरें समाचार एजेंसी ANI ने ट्वीट की। जिसके बाद सीएम योगी सोशल मीडिया यूजर्स ने निशाने पर आ गए और ट्रोल हो गए।

वहीं एक यूजर्स ने कहा कि, ये 100 बच्चों की लाशें हैं जिनको ढोंगी साफ़ कर रहा है। साथ ही एक यूजर्स ने लिखा कि, यह सब बीआरडी मेडिकल कॉलेज के मामले से ध्यान हटाने के लिए किया जा रहा है। बता दें कि, सोशल मीडिया यूजर्स सीएम योगी के इस तस्वीर पर तरह-तरह के सवाल उठा रहे है।

देखिए कुछ ऐसे ही ट्वीट

https://twitter.com/aagayikavya/status/898774280007299073

बता दें कि, बीआरडी मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में करीब 70 से अधिक बच्चों की मौत के मामले में जिलाधिकारी की रिपोर्ट आ गई है। गोरखपुर के डीएम राजीव रौतेला ने अपनी जांच रिपोर्ट में यह स्वीकार किया है कि बीआरडी मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन की आपूर्ति वास्तव में कम थी। जांच रिपोर्ट में बीआरडी कॉलेज के प्रिंसिपल आरके मिश्रा को मुख्य आरोपी बताया गया है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here