मुंबई एयरपोर्ट पर मुस्लिम यात्रियों द्वारा नमाज़ अदा करने को लेकर विवाद, विरोध में BJP नेता ने दिया धरना

0

मुंबई के अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर शनिवार(8 जुलाई) देर रात मुस्लिम समुदाय के कुछ लोगों द्वारा नमाज अदा करने को लेकर विवाद खड़ा हो गया। दरअसल, यह घटना उस समय की है, जब कथित तौर पर तीन यात्री एयरपोर्ट पर गैंगवे में बीच रास्ते में ही नमाज पढ़ने लगे। मुस्लिम यात्रियों की इस हरकत का वहां मौजूद भारतीय जनता पार्टी(बीजेपी) के एक नेता ने विरोध किया।रिपोर्ट के मुताबिक, शनिवार रात बीजेपी नेता विनीत गोयनका अपनी पत्नी के साथ मुंबई एयरपोर्ट से दिल्ली के लिए विमान पकड़ने जा रहे थे। तभी अचानक मुस्लिम समुदाय के तीन शख्स गैंगवे में नमाज पढ़ने लगे, जिसका गोयनका ने विरोध किया। बता दें कि मुंबई के अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर नमाजी व्यक्तियों के लिए नमाज पढ़ने की व्यवस्था की गई है।

Also Read:  BJP के खिलाफ खबर शेयर करने पर फेसबुक ने ब्लॉक किया पत्रकार का अकाउंट

इतना ही नहीं शनिवार की देर रात और रविवार को एयरपोर्ट पर मुस्लिम समुदाय द्वारा नमाज पढ़ने के विरोध में बीजेपी नेता विनीत गोयनका धरने पर बैठ गए। साथ ही बीजेपी नेता ने मुंबई एयरपोर्ट पुलिस स्टेशन में सीआईएसएफ जवानों के खिलाफ शिकायत भी दर्ज कराई गई है।

Also Read:  डोनाल्ड ट्रंप के मुस्लिम देशों पर लगाए गए प्रतिबंध पर अमेरिकी अदालत से लगी रोक

बीजेपी नेता का अपनी शिकायत में आरोप लगाया है कि कुछ मुस्लिम यात्री एयरपोर्ट पर गैंगवे में बीच रास्ते पर ही नमाज पढ़ने बैठ गए। नमाज अदा करने वाले यात्रियों के पास सीआईएसएफ के जवान तैनात थे और वे अन्य यात्रियों को नमाजी यात्रियों से दूर हो कर आने-जाने के लिए कह रहे थे।

बदतमीजी का लगाया आरोप

गोयनका का आरोप है कि एयरपोर्ट पर तैनात सीईएसएफ जवान एचएस रावत ने उनके साथ बदतमीजी की। उन्होंने कहा कि एयरपोर्ट पर जब नमाज अदा करने के लिए अलग से रूम की व्यवस्था है तो किसी को बीच रास्ते में नमाज अदा करने क्यों दे रहे हो? अगर इन्हें अनुमति दे रहे हो तो मुझे भी पूजा की अनुमति दो?

Also Read:  अटकलों पर लगा विराम, राजनाथ सिंह हो सकते है उत्तर प्रदेश के अगले मुख्यमंत्री

साथ ही गोयनका ने यह भी आरोप लगाया कि एयरपोर्ट पर मौजूद सुरक्षाकर्मियों ने दुर्व्यवहार किया और हिंदुओं के प्रति अपमानजनक टिप्पणी की। इसके बाद गोयनका ने एयरपोर्ट पर धरना प्रदर्शन शुरू किया। हालांकि, अभी तक इस मामले में सीआईएसएफ प्रबंधन ने कुछ कहने से इनकार कर दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here