कश्मीरी युवक को जीप पर बांधकर घुमाने वाले मेजर को सेना ने किया सम्मानित

0

घाटी के पत्थरबाजों से निपटने के लिए स्थानीय युवक को जीप से बांधकर मानव ढाल की तरह इस्तेमाल करने वाले मेजर नितिन गोगोई को सेना ने सम्मानित किया है। सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने उस अधिकारी को प्रशंसा पत्र दिया है।

कश्मीरी युवक

कश्मीर युवक को कवच के तौर पर जीप पर बांधने के लिए चर्चा में आए सेना के मेजर लीतुल गोगोई को आतंकवाद निरोधी अभियानों में सराहनीय योगदान के लिए सेना प्रमुख के प्रशस्ति पत्र से सम्मानित किया गया है। गोगोई को चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ (COAS) कॉमन्डेशन से नवाजा गया है। हाल ही में आर्मी चीफ बिपिन रावत जम्मू-कश्मीर के दौरे पर थे। उसी वक्त गोगोई को यह सम्मान दिया गया।

बहुत सारे लोगों ने सेना के इस कदम की आलोचना की थी और इस मामले में कोर्ट ऑफ इंक्वॉयरी के आदेश भी हुए थे।राजनीतिक स्तर पर इस हरकत की निंदा भी की गई। सेना ने भी कोर्ट आफ इन्क्वायरी 15 अप्रैल को आर्डर कर दी। इसकी रिपोर्ट अभी तक लंबित है। उधर, पुलिस ने सुरक्षा बलों के खिलाफ इस मामले में केस भी दर्ज कर रखा है।

आपको बता दे कि पिछले महीने सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ था जिसमें फारुख अहमद डार नामक कश्मीरी युवक को आर्मी जवानों द्वारा जीप के बोनट पर बांधकर घुमाने की घटना सामने आई थी। इस मामले में गृह मंत्रालय ने भी जांच के आदेश जारी कर दिए थे।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here