एक्टर प्रकाश राज ने BJP को बताया ‘कैंसर’, बोले- कर्नाटक में भाजपा जीती तो ‘असुरक्षित’ महसूस करूंगा

0

पिछले कुछ समय से भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और दक्षिणपंथी संगठनों पर लगातार हमला बोल रहे बॉलीवुड फिल्मों में विलेन की भूमिका में नजर आने वाले मशहूर अभिनेता प्रकाश राज ने एक बार फिर बीजेपी को कैंसर बताते हुए जोरदार प्रहार किया है। साथ ही कर्नाटक चुनाव के मद्देनजर प्रकाश राज ने लोगों से अपील की है कि वे बीजेपी जैसी सांप्रदायिक पार्टी को वोट न दें। अभिनेता ने बीजेपी को देश के लिए बहुत बड़ा खतरा करार दिया है।

प्रकाश राज
File Photo: PTI

जनसत्ता के मुताबिक प्रकाश राज ने कहा कि, “बीजेपी कैंसर की तरह है। इसके अलावा कांग्रेस और जेडी(एस) कोल्ड और कफ की तरह हैं।” अभिनेता ने कहा कि, “हम पागल हैं जो कि कैंसर का पहले इलाज करने के बजाए कोल्ड और कफ का इलाज पहले करते हैं। मैं किसी भी पार्टी के समर्थन में नहीं हूं, लेकिन मैं उन पार्टी के खिलाफ हूं जो कि साम्प्रदायिक तौर पर शासन करना चाहती हैं। हम देखते हैं कि राष्ट्रीय नेता तानाशाही स्वर में देश में शासन करने की बात करते हैं।”

वहीं, दक्षिण भारत के इस मशहूर अभिनेता ने कहा कि, “मैं कर्नाटक का नागरिक हूं और मैं किसी भी पार्टी से नहीं जुड़ा हुआ। मुझे समझ नहीं आता कि कैसे चुनाव का कोड एंड कंडक्ट मुझपर लागू होता है।” प्रकाश राज का कहना है कि क्यों सभी नागरिक अपनी सही राय नहीं रख सकते। वहीं, नवभारत टाइम्स के मुताबिक अपने बयानों के चलते कई बार दक्षिणपंथियों के निशाने पर आ चुके अभिनेता ने कहा है कि अगर कर्नाटक में बीजेपी सरकार आती है तो वह राज्य में ‘असुरक्षित’ महसूस करेंगे।

प्रकाश राज ने कहा कि, ‘गुलबर्ग में मेरे ऊपर बीजेपी कार्यकर्ताओं के द्वारा हमला किया गया, मुझ पर और मेरी कार पर पत्थर फेंके गए। अगर राज्य में बीजेपी सत्ता में आती है तो मैं इस प्रदेश में रहने में असुरक्षित महसूस करूंगा। हर दिन के साथ मेरा डर भी बढ़ता जा रहा है।’ भारत को हिंदू राष्ट्र बनाने की बात का विरोध करते हुए प्रकाश ने कहा कि यह बिल्कुल वैसा ही है, जैसे किसी कौवे को राष्ट्रीय पक्षी बना देना।

NBT के मुताबिक प्रकाश राज ने कहा कि, ‘अगर बहुसंख्यक होना एक मापदंड है और इसी के आधार पर देश को हिंदूराष्ट्र बनाने की बात हो रही है तो देश में मोर से ज्यादा संख्या कौवों की है, उसे मोर की जगह पर राष्ट्रीय पक्षी बना दो।’ उन्होंने कहा कि किसी भी संप्रदाय विशेष को बहुसंख्यक होने की वजह से पूरे राष्ट्र का प्रतिनिधि नहीं माना जा सकता। बता दें कि अभी हाल ही में प्रकाश राज ने कहा था कि, ‘वे (बीजेपी नेता) कहते हैं कि मैं हिन्दू विरोधी हूं। नहीं, ऐसा नहीं है। दरअसल, मैं मोदी-विरोधी, हेगड़े-विरोधी, अमित शाह-विरोधी हूं। वे हिन्दू नहीं हैं।’

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here