“रिपब्लिक टीवी से बड़ा फेक न्यूज का कोई सोर्स नहीं है”, लेखक आतिश तासीर ने अर्नब गोस्वामी के डिबेट का न्‍योता ठुकराते हुए दिया जवाब

0

अंग्रेजी समाचार चैनल ‘रिपब्लिक टीवी’ के विवादास्पद एंकर व संस्थापक अर्नब गोस्वामी को उस समय शर्मिंदगी का सामना करना पड़ जब हाल ही में उनके एक प्रतिनिधि ने ‘फेक न्‍यूज’ पर डिबेट का न्‍योता लेखक और पत्रकार आतिश तासीर को भेजा और उन्होंने इस डिबेट में हिस्सा लेने से साफ इंकार कर दिया। इतना ही नहीं साथ ही उन्होंने चैनल से ये भी कहा कि अपने संपादक अर्नब गोस्वामी को कहना कि वो एक बेहतर इंसान बनने की कोशिश करे।

आतिश तासीर

दरअसल, हाल ही में रिपब्लिक टीवी के प्रतिनिधि के एक ईमेल के जरिए लेखक आतिश तासीर को डिबेट में शामिल होने के न्‍योता भेजा। ईमेल में लिखा था, “प्रिय महोदय, रिपब्लिक टीवी की ओर से हार्दिक बधाई! यह हमारे चैनल पर हमारे एडिटर इन चीफ श्री अर्नब गोस्वामी के साथ आज रात 10 बजे के शो के बारे में है। आज रात अर्नब गोस्वामी के साथ वेस्टर्न मीडिया द्वारा फेक न्यूज फैलाने के विषय पर डिबेट शो होगा। यदि आप अपने व्यस्त कार्यक्रम से कुछ समय निकाल सकते हैं और हमारे शो में भाग ले सकते हैं तो हम आपके आभारी होंगे।”

रिपब्लिक टीवी प्रतिनिधि के ईमेल का जवाब देते हुए आतिश तासीर ने लिखा, “आपकी रुचि के लिए बहुत बहुत धन्यवाद। मगर अफसोस कि मैं पैनल डिस्कशन्स नहीं करता, खासतौर से ऐसे वाहियात टॉपिक पर। वैसे भी आप इससे तो भली भांति वाकिफ ही होंगे कि रिपब्लिक टीवी से बड़ा फेक न्यूज का कोई सोर्स नहीं है। कृपया मेरी तरफ से श्री अर्नब गोस्वामी को शुभकामनाएं दीजिएगा और कहिएगा कि वो एक बेहतर इंसान बनें।”

इन दोनों ईमेल का स्क्रीनशॉट शेयर करते हुए आतिश तासीर ने एक ट्वीट भी किया है, जो अब सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। उनके इस ट्वीट पर सोशल मीडिया यूजर्स की मिलीजुली प्रतिक्रियाएं आ रही हैं। लोग लिख रहे हैं कि आपने बहुत सही तरीके से रिपब्लिक टीवी को सबक सिखाया है। वहीं, बहुत से यूजर्स आतिश के ट्वीट पर उनकी निंदा भी कर रहे हैं।

बता दें कि, लेखक आतिश तासीर पिछले दिनों काफी चर्चा में रहे थे। तासीर के ओवरसीज सिटीजनशीप ऑफ इंडिया कार्ड (OCI) को भारत सरकार ने रद्द करने का फैसला किया था। आतिश तासीर भारतीय पत्रकार तवलीन सिंह और पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के दिवंगत गवर्नर सलमान तासीर के बेटे हैं। आतिश ने पिछले साल लोकसभा चुनावों से पहले TIME मैगजीन में पीएम नरेंद्र मोदी को डिवाइडर इन चीफ बताते हुए एक आर्टिकल भी लिखा था। इस आलेख में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना की गई थी। इस आर्टिकल को लेकर भारत में खूब बहस छिड़ी थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here