इस साल सिर्फ 35 दिनों के अंदर 12 जवान हुए शहीद

0

पाकिस्‍तान ने जम्‍मू कश्‍मीर में एक बार फिर सीजफायर (संघर्ष विराम) का उल्‍लंघन किया है। पाक ने जम्मू-कश्मीर के राजौरी और पुंछ जिलों में नियंत्रण रेखा पर रविवार (4 फरवरी) को गोलाबारी की। इसमें देश की राजधानी दिल्ली से सटे से गुरुग्राम के कैप्टन कपिल कुंडू और तीन जवान शहीद हो गए, जबकि चार अन्य घायल हो गए। भारतीय सेना ने भी पाक की इस हरकत का मुंहतोड़ जवाब दिया।

जवान
FILE PHOTO
न्यूज एजेंसी भाषा की रिपोर्ट के मुताबिक, सैन्य अधिकारियों ने बताया कि रविवार शाम संघर्ष विराम का उल्लंघन करते हुए पाकिस्तानी रेंजर्स ने राजौरी के भीमबेर गली सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पास भारी गोलाबारी और बमबारी की। इसमें सैन्य अफसर कुंडू, ग्वालियर निवासी राइफलमैन राम अवतार, कठुआ के शुभम सिंह और सांबा के हवलदार रोशन लाल शहीद हो गए।
वहीं, कपिल कुंडू के परिवार ने पीएम मोदी से शहीदों की शहादत का बदला लेने की मांग की है। एबीपी न्यूज़ के मुताबिक, इस साल सिर्फ 35 दिनों के अंदर ही 12 जवान देश की हिफाजत करते हुए शहीद हो गए हैं।
एबीपी न्यूज़ के द्वारा जारी किया आकड़ा इस प्रकार है :

3 जनवरी- सांबा सेक्टर में बीएसएफ के डेड कांस्टबेल आप पी हाजरा शहीद हुए।

13 जनवरी- सुन्दरबनी सेक्टर में आर्मी के लांस नायक योगेश भड़ाने ने शहादत दी।

17 जनवरी- आरएस पुरा सेक्टर में बीएसएफ के हेड कांस्टेबल ए सुरेश शहीद हुए।

19 जनवरी- सुन्दरबनी सेक्टर में आर्मी के लांस नायक सैम अब्राहम शहीद हुए।

19 जनवरी- इसी दिन सांबा सेक्टर में बीएसएफ के हेड कांस्टेबल जगपाल सिंह शहीद।

20 जनवरी- कृष्णा घाटी सेक्टर में सेना के सिपाही मनदीप सिंह शहीद।

21 जनवरी- मेंढर सेक्टर में सेना के सिपाही चंदन कुमार राय शहीद।

24 जनवरी- कृष्णा घाटी सेक्टर में सेना के सिपाही नायक जगदीश शहीद।

4 फरवरी- भिंबर गली सेक्टर में सेना के कैप्टन कपिल कूंडू शहीद।

4 फरवरी- भिंबर गली सेक्टर में सेना के हवलदार रोशन लाल शहीद।

4 फरवरी- भिंबर गली सेक्टर में सेना के राइफलमैन रामअवतार शहीद।

4 फरवरी- भिंबर गली सेक्टर में सेना के राइफलमैन शुभम सिंह शहीद।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here