LIVE: भारतीय वायुसेना ने LOC के पार जाकर 1000 किलोग्राम बम से ध्वस्त किए कई आतंकी कैंप, जानें हर अपडेट्स

0

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को हुए आतंकी हमले का भारत ने बदला लिया है। भारतीय वायुसेना के जवानों ने एलओसी के पार जाकर आतंकी कैंप पर हमला बोला और उनके कई आतंकवादी कैंपों को ध्वस्त कर दिया है। जी हां, मीडिया में भारतीय एयरफोर्स के सूत्रों के हवाले से बताया जा रहा है कि भारत के लड़ाकू विमानों ने सुबह 3:30 मिनट पर बालाकोट के पास जैश-ए-मोहम्मद के एक कैंप पर हमला करके उसे तबाह कर दिया।

सूत्रों के अनुसार, भारतीय वायुसेना से 26 फरवरी को सुबह साढ़े 3 बजे 12 मिराज 2000 भारतीय लड़ाकू जेट विमानों ने एलओसी के पार जाकर आतंकवादी कैंपों पर निशाना बनाया और इसे पूरी तरह बर्बाद कर दिया। ANI के मुताबिक भारतीय वायुसेना के सूत्रों ने बताया कि 26 फरवरी को 03:30 बजे (25 फरवरी की देर रात) भारतीय वायुसेना के मिराज 2000 लड़ाकू विमानों ने नियंत्रण रेखा के पार एक बड़े आतंकवादी कैम्प पर हमला बोला और उसे पूरी तरह तबाह कर दिया…’

भारतीय वायुसेना के सूत्रों ने कहा कि IAF विमान ने एलओसी पार आतंकवादियों के कैंप पर करीब 1000 किलोग्राम के बम गिराए। मीडिया रिपोर्ट की मानें तो भारतीय वायुसेना का यह हमला पूरी तरह से सफल है और आतंकी कैंप पूरी तरह से तबाह हो गए हैं। हालांकि, भारत की तरफ से अभी तक कोई आधिकारिक जानकारी नहीं दी गई है। बताया जा रहा है कि सुबह 3 बजे के करीब भारतीय वायुसेना के 12 मिराज विमानों ने पीओके के पार जाकर आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के कैंपों पर हमला बोला।

भारतीय वायुसेना की इस कार्रवाई पर देश में त्वरित प्रतिक्रिया जाहिर की जा रही है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सहित देश के तमाम राजनीतिक पार्टियों के नेताओं की तरफ से ट्वीट वायुसेना के जवानों को सलाम किया गया है।

देखिए, लाइव अपडेट्स:-

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने आज शाम 5 बजे सर्वदलीय बैठक बुलाई है।

विदेश सचिव विजय गोखले ने कहा कि कल रात भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान के बालाकोट में बड़ी कार्रवाई की है, जिसमें जैश ए मोहम्मद के कई आतंकी और जिहादी मारे गए हैं। उन्होंने कहा कि लगातार बढ़ते हमलों के बीच बड़ी कार्रवाई की जरूरत थी।

कल रात भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान के बालाकोट में बड़ी कार्रवाई की है, जिसमें जैश ए मोहम्मद के कई आतंकी और जिहादी मारे गए हैं, हमारा निशाना आतंकी थे और हमने पूरी सावधानी बरती की कि किसी भी नागरिक की मौत ना हो: विदेश सचिव

कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने भी ट्वीट कर भारत की ओर से आतंकी कैंपों पर किए हमले पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए भारतीय सैनिकों को सलाम किया है।

इस एयरस्ट्राइक पर जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने ट्वीट कर कहा कि अगर ये बात सच है तो ये बहुत बड़ी कार्रवाई है, लेकिन हमें इस पर भारत सरकार के आधिकारिक बयान का इंतजार करना चाहिए। उन्होंने कहा कि अभी ये देखना होगा पाकिस्तान इस कार्रवाई का किस तरह जवाब देता है।

नेशनल कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष उमर अब्दुल्ला ने एक अन्य ट्वीट में कहा, “अगर ये केपीके का बालाकोट है तो ये भारतीय वायुसेना के विमानों की बहुत बड़ी कार्रवाई है। लेकिन यदि ये पूंछ सेक्टर का बालाकोट है, जो कि LOC से लगा है तो ये मोटे तौर पर एक सांकेतिक हमला है क्योंकि साल के इस समय चरमपंथियों के कैंप खाली और निष्क्रिय होते हैं।”

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आतंकी कैंपों पर हमले के बाद भारतीय वायुसेना के पायलट को सैल्यूट करते हुए ट्वीट किया है। केजरीवाल ने कहा, “मैं भारतीय वायुसेना के पायलटों की बहादुरी को सलाम करता हूं जिन्होंने पाकिस्तान में आतंक के निशानों पर हमला कर हमारा गौरव बढ़ाया है।”

भारतीय वायुसेना द्वारा एलओसी पार आतंकी कैंपों पर एक हजार किलो के बम गिराकर उन्हें ध्वस्त किए जाने को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट कर वायुसेना के पायलट को सैल्यूट किया है। राहुल गांधी ने वायुसेना को बधाई देते हुए ट्वीट किया है – “मैं भारतीय वायुसेना के पायलटों को सलाम करता हूं।”

पाकिस्तान ने भी की पुष्टि 

पाकिस्तान ने भी मंगलवार को दावा किया कि भारतीय वायु सेना (आईएएफ) के लड़ाकू विमानों ने नियंत्रण रेखा का उल्लंघन कर पाकिस्तानी सीमा में घुसपैठ की। पाकिस्तानी वायु सेना (पीएएफ) की जवाबी कार्रवाई के बाद विमान वापस लौट गए।

महानिदेशक इंटर-सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस (आईएसपीआर) आसिफ गफूर ने सुबह ट्वीट किया और रेडियो पाकिस्तान ने दावा किया कि वायुसेना के विमानों ने लौटने से पहले जल्दबाजी में विमान में रखे बम गिरा दिए जो खैबर पख्तूनख्वा में बालाकोट के पास गिरे हैं।

रेडियो पाकिस्तान ने दावा किया कि यह कथित घटना मुजफ्फराबाद सेक्टर में हुई। भारत सरकार की ओर से जल्द ही इस पर बयान आने की उम्मीद है। गफूर ने एक ट्वीट में कहा, ‘भारतीय वायु सेना ने नियंत्रण रेखा का उल्लंघन किया। पाकिस्तान वायु सेना ने तुरंत जवाब दिया। भारतीय विमान वापस चले गए।’

आपको बता दें कि यह आरोप जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को सीआरपीएफ के काफिले पर हुए जैश-ए-मोहम्मद के आत्मघाती हमले के बाद दोनों देशों में बढ़े तनाव के बीच लगाया गया है। हमले में सुरक्षा बल के 40 जवाब शहीद हुए थे।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here